नोटबंदी के दौरान रोने वाले इस बुजुर्ग को सरकार का विरोध करने के लिए बनाया था पोस्टर बॉय, देखिये अब मोदी सरकार को लेकर क्या बोल दिया !

4353

नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर भारतीय जनता पार्टी कालाधन विरोधी दिवस मनाने जा रही है कांग्रेस इस दिन बीजेपी का विरोध करेगी. आपको बता दें कि नोटबंदी के दौरान सबको थोड़ी बहुत समस्या हुई थी लेकिन एक बुजुर्ग की फोटो खूब वायरल हुई जो लाइन में खड़े हो फफक-फफक कर रो रहे थे  इसके बाद आलोचकों ने सरकार का विरोध करने के लिए इन्हें पोस्टर बॉय बना लिया था लेकिन नोटबंदी के एक साल पूरा होने के मौके पर जब इकनॉमिक टाइम्स इसके पास पहुंचा तो इन्होने को कहा उसकी किसी को उम्मीद नही थी.

 

Source

नवभारत टाइम्स से आई खबर के मुताबिक   नन्द लाल नाम के ये वही व्यक्ति है जिनकी नोटबंदी के दौरान रोते हुए फोटो वायरल हुई थी.  पुराने गुरुग्राम में रह रहे 80 साल के नन्द लाल आर्मी से रिटायर हैं और वो एक 10×8 के  कमरे में रहते हैं. उनसे जब पुछा गया कि वो नोट बंदी के दौरान लाइन में खड़े होकर रो क्यों रहे थे? इसके जवाब में उन्होंने कहा कि “मुझे किसी ने धक्का मार दिया था और एक महिला ने मेरा पैर कुचल दिया था. मुझे पैसे नही मिल पाए थे मुझे रूम का रेंट देना था. इससे ज्यादा कोई समस्या नही हुई है”

Source

नोटबंदी के एक साल पूरा होने के मौके पर जब उनसे पुछा गया कि क्या वे नोटबंदी से खुश हैं? तो उन्होंने ने कहा कि “सरकार का हर फैसला मुझे मंजूर हैं मैं सेना से रिटायर हुआ है और मुझे नोटबंदी से कोई तकलीफ नही है. हां शुरू में कुछ तकलीफ हुई थी लेकिन अब मैं मेड को बैंक भेजकर पैसे मंगा लेता हूँ”.उन्होंने कहा, ‘सरकार जो भी करती है, वह देश की भलाई के लिए होता है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं एक सैनिक हूं और मैं सरकार के हर फैसले के साथ हूं

Source

एक तरह जहां कांग्रेस और विपक्षी पार्टियां नोटबंदी के खिलाफ सरकार को घेरते नजर आते हैं वही दूसरी तरह एक ये भी तस्वीर हैं जिसे विरोधियों और आलोचकों ने पोस्टर बॉय बना कर सरकार के खिलाफ हमला बोला था आज वही सरकार के फैसले का स्वागत करता नजर आ रहा है. यह विरोधियों के लिए किसी झटके से कम नही है.

Loading...
Loading...