बड़ी खबर : कुलभूषण जाधव के मुद्दे पर आखिर झुक ही गया पाकिस्तान!

438

भारतीय नागरिक नेवी से रिटायर कुलभूषण जाधव पाकिस्तान के कब्जे में हैं. पाकिस्तान जाधव को जासूस बताकर उन्हें दोषी करार दे दिया  है यहाँ तक कि उन्हें फांसी दिए जाने की भी योजना थी लेकिन अन्तराष्ट्रीय अदालत के रोक लगाये जाने के बाद पाकिस्तान को रुकना ही पड़ा हैं. पाकिस्तान पर इस बात से तो और संदेह होता है कि कुलभूषण जाधव से पाकिस्तान इनके परिजनों को भी मिलने की इजाजत नही दे रहा है लेकिन इस बार भारत और दुनिया का दबाव काम आया.

Source

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़  पकिस्तान को दबाव के आगे  झुकना पड़ा है और कुलभूषण से उनके परिवार वालों को मिलने की छूट देनी पड़ी  है.पाकिस्तान की सरकार ने ‘मानवीय आधार’ पर उन्हें ये इजाजत दी है. माना जा रहा है कि भारत के दबाक के चलते पाकिस्तान ने कुलभूषण की पत्नी को मिलने की इजाजत दे दी है. ANI के मुताबिक़ पाकिस्तान सरकार मानवीय आधार पर कुलभूषण की पत्नी की कुलभूषण से मुलाकत करवाने को तैयार हो गया है.

Source

आपको बता दें कि पाकिस्तान ने कुलभूषण को जासूसी का आरोपी बताकर उन्हें फांसी की सजा सुनाई थी जिसके बाद भारत इस मामले को लेकर अन्तराष्ट्रीय अदालत में गया जहां भारत को जीत मिली और इंटरनेशनल कोर्ट ने फांसी की सजा पर रोक लगा दी.

Source

भारत लगातार पाकिस्तान को कुलभूषण जाधव से मुलाकात करने के लिए वक्त मांग रहा था लेकिन पाकिस्तान न ही भारत सरकार और न ही उनके परिजनों को कुलभूषण से मिलने की इजाजत दे रहा था लेकिन मोदी सरकार के द्वारा लगातार बनाये जा रहे दबाव के चलते पाकिस्तान को आखिरकार घुटने टेकने ही पड़े हैं.इसे मोदी सरकार की एक और कामयाबी के तौर पर देखा जा रहा है.

Loading...
Loading...