इस मौलाना का दांव पड़ा उल्टा, बीजेपी प्रवक्ता ने कर दी फजीहत !

52

इन दिनों टीवी चैनलों पर बहस के दौरान कुछ मौलवी बीजेपी प्रवक्ताओं, नेताओं की देशभक्ति का टेस्ट लेते दिखाई देते हैं. मौलाना, लोगों से वन्दे मातरम और राष्ट्रगान गाने को कह देते हैं, ये सोचकर कि उन्हें वन्दे मातरम या राष्ट्रगान नही आता. फिलहाल कभी-कभी ऐसा भी होता है कि वो अपने मकसद में पास भी हो जाते हैं लेकिन आज जो वीडियो हम आपको दिखाने जा रहे हैं वो अपने आप में अलग है. बता दें समाचार प्लस चैनल पर हो रही बहस में एक मौलाना ने उत्तर प्रदेश के बीजेपी प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी से राष्ट्रगान गाने की चुनौती दे डाली.

Source

जनसत्ता की खबर के मुताबिक इस चैनल में बहस के दौरान पैनल में कई मेहमान मौजूद थे. जिसमें मौलाना राशिदी भी शामिल थे, उन्होंने बीजेपी प्रवक्ता से “आपको राष्ट्रगान याद ही नही है”, कहते हुए राष्ट्रगान गाने को कह दिया, जिसके बाद शलभमणि त्रिपाठी ने राष्ट्रगान गाकर सुना भी दिया. यही नही जब वो राष्ट्रगान गा रहे थे तो शो में मौजूद सभी लोग खड़े होकर राष्ट्रगान गाने लगे, यहां तक कि शो के होस्ट भी लेकिन मौलाना राशिदी इस दौरान ना तो खड़े हुए और न ही राष्ट्रगान गाया. हालांकि राष्ट्रगान के दौरान खड़े ना होने पर बीजेपी प्रवक्ता बहस छोड़कर चले जाते हैं.

हैरत तो तब हुई जब बीजेपी प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी ने राष्ट्रगान गाकर सुना दिया तो मौलाना ने बड़ी बेशर्मी से कहा कि “आप टेस्ट में पास हो गये”, दरअसल बीते कुछ दिनों में टीवी डिबेट में फैशन सा बन गया है कि मौलाना-मौलवी बीजेपी नेताओं से राष्ट्रगान या राष्ट्रगीत गाने की चुनौती दे देते हैं, और जब लोग गा नही पाते तो सवाल खड़े करने लगते हैं. यही दांव मौलाना राशिदी ने बीजेपी प्रवक्ता पर भी चला लेकिन ये दांव उल्टा पड़ गया.

वीडियो

राष्ट्रगान हमारे लिए महज़ 52 सेकेंड की कुछ पंक्तियाँ नहीं हैं, राष्ट्रगान हमारे लिए स्तुति है उस मातृभूमि की जिसके लिए हम मर मिट सकते हैं, राष्ट्रगान हमारे लिए देश प्रेम का एक ऐसा जज़्बा है, जिस पर सब कुछ क़ुर्बान है, ऐसे में जब कोई राष्ट्रगान पर सवाल खड़ा करता है तब भावनाओं का तूफ़ान बहता है, ऐसा ही हुआ एक न्यूज़ डीबेट के दौरान जब इतिहासकार इरफ़ान हबीब के बाद मौलाना साजिद ने भी राष्ट्रगान को लेकर सवाल खड़े किए और तब मैंने ना सिर्फ इसका पुरज़ोर विरोध किया बल्कि न्यूज़ चैनल के स्टूडियो को जन गण मन और भारत माता के नारों के साथ गुंजायमान कर दिया, इस दौरान न्यूज़ चैनल के एंकर, उनकी टीम, वरिष्ठ पत्रकार श्री हेमंत तिवारी और हमारे वैचारिक विरोधी तक ने खड़े होकर राष्ट्रगान का सम्मान किया, पर मौलाना साजिद ना तो खड़े हुए ना ही राष्ट्रगान गाया, मौलाना के इस शर्मनाक रवैये पर मैंने और श्री हेमंत तिवारी ने डीबेट का बहिष्कार कर दिया, इस डीबेट के कुछ हिस्से आपसे शेयर कर रहा हूँ, भारत माता की जय 🙏Hemant Tiwari

Publié par Shalabh Mani Tripathi sur dimanche 5 novembre 2017

Loading...
Loading...