मोदी सरकार अब पेट्रोल-डीजल के दामों को बढ़ने देगी, जानिए कैसे ?

81

आज के जीवन में पेट्रोल-डीजल की उपयोगिता जिस तरीके से बढ़ी है उसको देखते हुए इसका राजनीतिक प्रभाव भी अपनी खास जगह रखता है. चुनाव आते हैं तो पेट्रोल-डीजल के दामों से भी सरकार के कार्यकाल को आँका जाता है. बीते कुछ महीनों में पेट्रोल-डीजल के दामों में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिला है. आज हम आपको एक ऐसी खबर बताने जा रहे हैं जिसे जानकर आप मोदी सरकार की वाहवाही करेंगे. दरअसल कुछ ऐसी वजहें हैं जिनसे पता चलता है कि मोदी सरकार अब पेट्रोल-डीजल के दामों को बढ़ने नही देगी. इतना ही नही जिस पेट्रोल को दिल्ली में 71 रूपये के आसपास ख़रीदा जाता है उसे अब मोदी सरकार के प्रयासों द्वारा 38 रूपये में ख़रीदा जा सकेगा, जानिए कैसे?

दरअसल पंजाब केसरी की खबर मुताबिक, 2018 में देशभर के कई राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, उसके बाद 2019 में लोकसभा चुनाव होंगे, इसको देखते हुए मोदी सरकार पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी करके अपना नुकसान नही उठाना चाहेगी. इतना ही नही मोदी सरकार प्रयास कर रही है कि पेट्रोल-डीजल को GST के तहत लाया जाय. अगर ऐसा हुआ तो पेट्रोल-डीजल पर महज 18 फीसदी टैक्स लगने लगेगा, जोकि वर्तमान में बिना GST के 57 फीसदी टैक्स लगता है. GST लगने के बाद वर्तमान टैक्स से पेट्रोल-डीजल में 39 फीसदी का अंतर आएगा जो कि जनता के लिए काफी मायने रखता है. अगर ऐसा मुमकिन होता है तो मोदी सरकार कि तरफ से भारतीय युवाओं के लिए बेहतरीन तोहफा होगा.

Source

हम आपको इसे उदाहरण के जरिये समझाते हैं. जैसे दिल्ली में शुक्रवार को एक लीटर पेट्रोल का दाम 69.24 रूपये था, अगर इसपर 18% GST लगता तो इसका दाम महज 41.68 रूपये होता. इतना ही नही अगर इस पर GST स्लैब 12% होता तो एक लीटर पेट्रोल का दाम महज 32.92 रूपये हो जाता है. GST में पेट्रोल-डीजल के आ जाने से आम जनता को बड़ी राहत मिलेगी. जो ख़बरें आ रही है उसके हिसाब मोदी सरकार इस पर विचार कर रही है और मुमकिन है कि जल्द ही ये तोहफा आम जनता को मिलेगा.

Loading...
Loading...