मोदी सरकार का ये जलवा देख आप गर्व महसूस करेंगे !

58

2014 में मोदी सरकार बनी तो निराशाओं से आशाओं की तरफ बढ़ने का सपना पूरा भारत देखने लगा. लोकसभा चुनाव में नरेंद्र दामोदर दास मोदी देश के प्रधानमन्त्री बने लेकिन उससे पहले जो 10 साल बीते थे वो घोटालों की कालिखों से भरे थे. विकास की योजनाओं से ज्यादा घोटालों की चर्चा हो रही थी. अधिकतर मंत्रियों ने प्रधानमन्त्री मनमोहन सिंह की नाक के नीचे से घोटालों की गंगा की बहा रखी थी. कांग्रेस की मटिया पलीद हो चुकी थी. देश इन सबसे आज़ादी चाहता था और उसे मोदी के नाम का सहारा मिला.

Source

मनमोहन सरकार में देश का मान-सम्मान भी दूसरे देशों की नजर में गिरता जा रहा था. खासकर पड़ोसी देशों ने भारत की अहमियत को कम आंकना शुरू कर दिया था. चीन जैसे देश भारत की ताकत को कम कर आंकते थे. देश के मान को बढ़ाने को लेकर आपको एक उदाहरण दिखाते हैं जिससे आप आसानी से समझ सकते हैं कि आखिर मोदी सरकार किस तरह देश को मजबूत करने में लगी हुई है. वैसे तो ऐसे कई उदाहरण हैं जो मोदी सरकार ने स्थापित किये हैं, लेकिन शुरुआत एक छोटे उदाहरण से करते हैं.

अब इस चार्जर को ही देख लीजिये, यह फोटो सोशल मीडिया पर खूब धड़ल्ले से वायरल हो रही है. इसमें पहला चार्जर मनमोहन सरकार में बना हुआ है, जिसमें मेड इन चाइना लिखा हुआ है. सवाल यह कि उस वक्त इस छोटी सी चीज को भी भारत बनाने में सक्षम नही था क्या ? हमें चीन जैसे देश से इसे इम्पोर्ट करना पड़ता था और नतीजन उसकी अर्थ व्यवस्था को हम खुद मजबूत कर रहे थे लेकिन समय बदला और मोदी सरकार आई और आत्मनिर्भर होने में बल मिला.

दूसरी इमेज को आप ध्यान से देखेंगे तो ये जो चार्जर आपको दिखाई दे रहा है वो मोदी सरकार में बना हुआ है और मेड इन इंडिया है. इससे आत्मनिर्भर होने के साथ-साथ अपने देश की अर्थ व्यवस्था मजबूत हो रही है ना कि चीन की. अब आप आसानी से समझ सकते हैं कि आखिर मोदी सरकार ही देश के लिए क्यों जरूरी है.

Loading...
Loading...