किसी ने उम्मीद भी नहीं की थी कि कुमार विश्वास ऐसा धाकड़ जवाब देंगे !

साफ सुथरी राजनीति करने की मंशा से केजरीवाल एक जान आन्दोलन का सहारा लेकर राजनीति में जब आये तो लोगों को लगा कि यही एक इंसान है जो भ्रस्टाचार से मुक्ति दिला सकता है. समय बदला और कुछ ऐसा बदला कि केजरीवाल अब खुद भ्रस्टाचार से लिप्त लोगों के बीच खड़े हैं. पार्टी के लिए जी-जान लगाकर काम करने वालों से प्रति प्रमुख ने किनारा कर लिया और पैसे वाले लोगों को राज्यसभा का टिकट दे दिया. ये सारी बातें इशारा करती हैं कि केजरीवाल भी कोई दूध के धुले नहीं हैं. दरअसल माना जा रहा था कि दिल्ली राज्यसभा सीटों के लिए कुमार विश्वास का भी नाम आएगा लेकिन इस मामले में केजरीवाल ने पैसे वालों को तरजीह दी और सुशील गुप्ता और ND गुप्ता पर विश्वास जताया.

Source

कुमार विश्वास के राज्यसभा ना जा पाने से पार्टी के अंदर विरोध के स्वर उठने शुरू हो गये हैं. इन सबको लेकर पार्टी की फजीहत भी हो रही है. आम आदमी पार्टी के दूसरे विधायकों द्वारा ऐसे भी बयान आये हैं जो कुमार विश्वास को निशाना बना रहे हैं. हालाँकि कुमार विश्वास भी कम नहीं, उन्होंने भी अपने तरीके से ऐसे लोगों को जवाब दिया है. दरअसल ‘आप’ के बड़े नेता गोपाल राय ने कुमार विश्वास के बारे में कहा था कि “कुमार विश्वास ने पिछले साल अप्रैल में MCD चुनावों के बाद केजरीवाल सरकार को गिराने का प्रयास किया गया था.” इस आरोप के जवाब में कुमार विश्वास ने गोपाल राय को अपने तरीके से जवाब दिया.

Source

बता दें कि कुमार विश्वास ने अपने ऊपर लगे आरोपों पर जवाब देते हुए कहा कि “पांच राज्यों के प्रभारी, दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष, पीएसी मेंबर, राष्ट्रीय प्रवक्ता, विधायक और मंत्री जैसे 9 पदों पर रहने वाले गोपाल राय कार्यकर्ताओं को मीर जाफर कहते हैं। आज 7 महीने बाद उनकी कुंभकर्णी नींद खुली है। पार्टी ने उनके बयान से किनारा कर लिया है.” नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन का नाम लेते हुए कुमार विश्वास ने तीखा हमला करते हुए कहा कि “किम जोंग ने दुनिया को बड़ा तंग कर रखा है। संयुक्त राष्ट्र के अध्यक्ष भी लगे हाथ बन जाएं। थोड़ी विश्व शांति भी हो जाएगी.” वैसे देखा जाय तो आम आदमी पार्टी में ये रार इतनी आसानी से ख़त्म नहीं होने वाली. अपनों पे सितम, गैरों पर करम वाली नीति केजरीवाल को मुसीबतों में डाल सकती है.

देखें वीडियो