इसे कहते हैं मोदी सरकार का जलवा, इस खबर को जानकर हर भारतीय गर्व करेगा !

साल 2015, जब मोदी को प्रधानमंत्री बने हुए तक़रीबन एक साल हुए थे. इस साल यूएई वो (सयुंक्त अरब अमीरात) के दौरे पर गये थे. अपने देश के प्रधानमंत्री को UAE में देख वहां रहने वाले हिन्दुओं ने प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात के दौरान अबुधाबी में एक पूजा स्थल की मांग की थी. इस मांग को पीएम मोदी ने वहां की सरकार के सामने रखा, जिसके बाद UAE सरकार ने अबुधाबी में जमीन देने की बात कही थी. अब 2018 यानी लगभग तीन साल बाद पीएम मोदी फिर से यूएई के दौरे पर हैं. इस दौरे पर हिन्दुओं के लिए पूजा स्थल बनाने की बात को फिर से याद किया जा रहा है. तो बता दें कि अबुधाबी में रह रहे हिन्दुओं के लिए मंदिर बनाने को लेकर एक बड़ी खबर आ रही है.

Source

बनेगा भव्य मंदिर:

ज़ी न्यूज़ की खबर के मुताबिक अबुधाबी में मंदिर बनाने को लेकर UAE सरकार ने जो जमीन मुहैया कराने की बात कही थी, उस जमीन पर अब भव्य मंदिर बनने जा रहा है. बता दें कि विदेश मंत्रालय में संयुक्त सचिव मृदुल कुमार ने बताया कि, ”मंदिर के लिए UAE सरकार द्वारा अबु धाबी और दुबई के बीच एक बड़ी जगह दी गई है. इस जगह पर जो मंदिर बनाया जायेगा वो भव्य और बहुत बड़ा मंदिर होगा.”

पीएम मोदी रखेंगे मंदिर की आधारशिला:

इस मंदिर को बनाने के लिए यूएई की सरकार ने 2015 में ही ज़मीन मुहैया कराने का वादा किया था. तीन देशों की यात्रा पर गये पीएम मोदी इस जमीन पर बनने वाले हिन्दू मंदिर की आधारशिला रखेंगे. इस मंदिर के निर्माण से दोनों देशों के बीच रिश्ते और भी मज़बूत होंगे.

दुबई में स्थित हिन्दू मंदिर

मंदिर की खासियत:

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बता दें कि दुबई में पहले से ही एक हिन्दू मंदिर मौजूद है, लेकिन अबुधाबी में रह रहे हिन्दू समुदाय के लिए ऐसा कोई मंदिर नहीं था. अब नये मंदिर के बारे में कहा जा रहा है कि इस मंदिर को वहां रह रहे हिन्दुओं के आराध्य देवी-देवताओं को ध्यान में रखकर बनाया जा रहा है. इस मंदिर में भगवान श्रीकृष्ण, भगवान शिव और भगवान अयप्पा सहित कई भगवानों की मूर्तियां स्थापित की जाएंगी. मंदिर परिसर में एक खूबसूसरत बगीचा होगा जहां लोग बैठकर ध्यान लगा सकेंगे और साथ ही मन को मोहने वाला वॉटर फ्रंट भी होगा. इसे 2020 तक बनाने का टारगेट रखा गया है.

मोरारी बापू के सत्संग में शामिल शेख (2016)

शेख और जय श्रीराम:

बता दें कि जब 2015 में पीएम मोदी UAE के दौरे पर गये थे तब वहां इस मंदिर के लिए जमीन देने की बात वहां की सरकार ने कही थी. पीएम मोदी के उस दौरे के करीब एक साल बाद यानी 2016 में वहां अध्यात्मिक संत मोरारी बापू का एक सत्संग का आयोजन किया गया था. उस सत्संग में शामिल होते हुए वहां के शेख ने जय श्री राम के नारे भी लगाए थे, जो सोशल मीडिया पर खूब चर्चित हुआ था.

वीडियो