GST को लेकर आई वित्त मंत्रालय से जुड़ी बड़ी खबर, GST लागू किये जाने के बाद से देश में…

1 जुलाई को पूरे भारत में GST बड़े ही जोरों-शोरों के साथ लागू किया गया था, आपको बता दें GST पीएम मोदी के लिए एक सपना समान था जो आखिरकार पूरा हुआ है.  GST  को लेकर जहां विपक्ष ने कहा था कि ये फैसला देशहित में नहीं है.  अब जब GST  लागू हो गया है तो लोगों ने पहले तो इस फैसले का विरोध किया था लेकिन अब GST के फायदे अब समझ आने लगे हैं.

source

GST को लेकर आया पहली रिपोर्ट..

जबसे GST लागू हुआ  है उससे जुड़ी एक रिपोर्ट सामने आई है, रिपोर्ट के अनुसार वित्र मंत्री का ये फैसला काफी अच्छा साबित हुआ है. देश में अभी तक GST  के बाद से किसी प्रकार की समस्या नहीं आई है और लोगों को इसके फायदे नज़र आने लगे हैं. जीएसटी रजिस्ट्रेशन का आंकड़ा 18 जुलाई, 2017 तक 77,55,416 बताया जा रहा है.

 

 

source

GST  में इन्टरनेट की जरूरत नहीं..

कई लोगों के मन में ये प्रश्न है कि GST  का इस्तेमाल इन्टरनेट के माध्यम से होता है लेकिन असल में सिर्फ रिटर्न भरने के लिए इन्टरनेट की जरूरत पड़ेगी. आपको बता दें इस काम के लिए सरकार ने कई हेल्प डेस्क बनाये हैं. जीकरण के लिए व्यापारी को जीएसटीडॉटजीओवीडॉटइन पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन देना होगा, इसके साथ ही उनके पास वैध पैन, ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर होना चाहिए.

 

GST पर आई रिपोर्ट 

पीएम मोदी दूरदर्शिता के लिए जाने जाते हैं. इस दूरदर्शिता का परिचय उन्होंने अपने फैसलों से दिया. उन्होंने निडरता से नोटबंदी का फैसला लिया, विपक्षी पार्टियों ने इसमें खामियां निकालीं उन्हें जितना मौक़ा मिला उन्होंने पीएम मोदी को गलत साबित करना चाहा लेकिन आज हम देख सकते हैं कि हर कोई इस फैसले से खुश है. हालही में मोदी सरकार ने भारत में GST लागू किया इसको लेकर भी विपक्षियों ने पीएम मोदी को घेरना चाहा लेकिन इस फैसले से भारत को क्या फायदा हो रहा है वो अब सामने आने लगा है .

source

GST लागू किये अभी ज्यादा समय नहीं हुआ है और अभी से इसको लेकर कोई भविष्यवाणी करना गलत होगा. इसके बारे में पूरी जानकारी अक्टूबर से पहले नहीं मिल पाएगी जब नई अप्रत्यक्ष व्यवस्था अपनी पहली तिमाही पूरी करेगी. हम आपको पहले 15 दिनों के आंकड़ों में जानकारी दे सकते हैं, 15 दिनों के इन आंकड़ों को देखने पर पता चलता है कि राजस्व में महीने-दर-महीने आधार पर 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है. यह जानकारी केंद्रीय उत्पाद शुल्क और सीमा शुल्क बोर्ड (CBEC) ने दी है.

source

जो लोग निकाल रहे थे कमियां उनको मिलेगा जवाब

अभी तक 1 जुलाई से 15 जुलाई के मध्य आयात से प्राप्त कुल राजस्व 12,673 करोड़ रूपये रहा है, जबकि इसी अवधि में जून के महीने में राजस्व 11,405 करोड़ रूपये रहा था. ये जानकारी सीबीईसी ने दी है. इसी संबंध में बोलते हुए सीबीईसी की प्रमुख वनजा सरना ने कहा कि, सीमा शुल्क से ठीकठाक राजस्व की प्राप्ति हुई है. उन्होंने उम्मीद जताई कि राजस्व की मात्रा पिछले महीने जितनी ही रह सकती है. उन्होंने ये भी कहा कि हम साल-दर-साल इसमें वृद्धि की उम्मीद नहीं करते हैं, फिर भी 30 जून की आधी रात से GST लागू होने के बाद प्रथम 15 दिनों में कुल 12,673 करोड़ रूपये का राजस्व आ चुका है.

source

GST लागू होने के बाद अरुण जेटली ने एक बयान देते हुए कहा था कि GST के अंतर्गत कर आधार में 80 लाख तक बढ़ोतरी बहुत आसानी के साथ होगी. अभी तक GST के अंतर्गत पुराने और नए पंजीकरणों को मिलाकर 75 लाख नए दाखिले आए हैं.
अब तक जो आंकड़े सामने आए हैं उनको देखकर पता चल जाता है कि पीएम मोदी ने क्यों GST को भारत में लागू किया. आने वाला वक़्त इस फैसले के कई पहलुओं को हमारे सामने लाएगा लेकिन अभी जो स्थिति है उसको देखकर लगता है कि पीएम मोदी के इस कदम से भी देश को फायदा ही होगा और जो लोग इसे घाटे का सौदा बता रहे थे उनके मुंह बंद हो जाएंगे.

 

Facebook Comments