भूटान की मदद करना भारत को पड़ सकता है भारी, चीन पाकिस्तान के साथ मिलकर कश्मीर में उठा सकता है बड़ा कदम

पिछले कुछ महीनों से चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. इस बार चीन की सरकारी  मीडिया ने कश्मीर को लेकर ऐसा बयान दिया है जिसके बाद भारत की चिंताएं बढ़ सकती हैं. चीन की सरकारी मीडिया ने कश्मीर को लेकर धमकी दी है. चीन ने कहा है कि अगर पाकिस्तान चाहे तो वह कश्मीर में तीसरे देश की सेना भेज सकता है. सीमा विवाद को लेकर चीन के सरकारी न्यूज़ पेपर ग्लोबल टाइम्स ने लिखा है कि जिस तरह से भारत ने भूटान के डोकलाम में चीन की सेना द्वारा बनाई  जा रही सड़क निर्माण पर रोक लगाई है इस आधार पर उसने कहा है कि कश्मीर में भी ‘तीसरे देश’ की सेना घुस सकती है.

Source

लाँन्ग शिंगचुन ने ग्लोबल टाइम्स में लिखा है कि …

चीन की वेस्ट नॉर्मल यूनिवर्सिटी में भारत अध्ययन विभाग के प्रोफ़ेसर और निदेशक लाँन्ग शिंगचुन ने ग्लोबल टाइम्स में लिखा है कि अगर भूटान ने भारत से मदद मांगी है तो  भारत की ओर यह मदद केवल स्थापित सीमा तक ही सीमित रहनी चाहिए. इसी के साथ चीन का आरोप है कि भारत भूटान की मदद करने के साथ चीन के डोकलाम क्षेत्र में जबरन घुस गया है. ग्लोबल टाइम्स के लेख में लाँन्ग शिंगचुन ने लिखा है कि जिस तरह से भारत भूटान की मदद करके चीन में घुस रहा है उसी तर्क से  भारत और पाकिस्तान के बीच विवादित कश्मीर में भी तीसरे देश की सेना घुस सकती है. इसी के साथ इस लेख में लिखा है कि अंतरराष्ट्रीय समानता और घरेलू मसलों को लेकर भारत लम्बे समय से दखल न देने की नीति की बात करता रहा है लेकिन फिर भी दक्षिण एशिया में उसने कूटनीतिक पकड़ बना ली है ऐसा करना संयुक्त राष्ट्र के चार्टर के खिलाफ है.

Source

क्या डोकलाम चीन का हिस्सा है ?

चीन के सीमा विवाद का कारण यह है कि भारत के सिक्किम में स्थित क्षेत्र डोका ला ,भूटान के डोकलाम की सीमा से लगा हुआ है और चीन भूटान के डोकलाम को अपना हिस्सा बताता है. भारत भूटान का साथ दे रहा है. इस लिए चीन को परेशानी हो रही है. भारत और चीन के बीच 3488 किमी० लम्बी सीमा है और इसमें 220 किमी० लम्बी सीमा सिक्किम में स्थित है.

Source

चीन ने इससे पहले भी 6 जून को सिक्किम में भारतीय सेना के बंकरों को नष्ट कर दिया था. चीन चाहता है कि वह भूटान के डोकलाम में सैन्य टैंक और दूसरे भारी वाहनों की आवाजाही के लिए सड़क का निर्माण कर सके लेकिन भारत इस बात का विरोध कर रहा है. इसी को लेकर पिछले एक महीने से भारत और चीन की सीमा पर तनाव बना हुआ है. चीन भूटान के जिस हिस्से में सड़क बनाना चाहता है उस हिस्से से भारत और तिब्बत की सीमाएं भी लगी हुई हैं. चीन के इस सड़क निर्माण को लेकर भूटान ने भी आधिकारिक विरोध दर्ज किया है.

Source

भारत और चीन के इस विवाद के बाद दोनों देशों ने डोकलाम में अपनी अपनी सेना अलर्ट कर दिया है. इसके साथ साथ चीन ने पिछले कुछ समय से हिन्द महासागर और अदन की खाड़ी में युद्धपोतों की संख्या को काफी बढ़ा दिया है. चीन ने भारत के मुकाबले चार गुना ज्यादा युद्धपोत तैनात कर रखे हैं. भारत भी 10 जुलाई से जापान और अमेरिका के साथ संयुक्त नौसेना अभ्यास करने जा रहा है.

 

Facebook Comments