क्या आप जानते हैं चीन किस वजह से डोकलाम में युद्ध करने पर तुला हुआ है ?

इस समय डोकलम में भारत और चीन के बीच गहरी तनातनी चल रही है और कभी भी दोनों के बीच युद्ध हो सकता है.  आपको बता दें दोनों ही देश इस समय एक दुसरे को कांटे की टक्कर दे रहे हैं और इस विवाद को सुलझाने में लगे हैं. चीन लगातार भारत को हमले की धमकी दे रहा है और अपनी सरकारी मीडिया की मदद से झूठी खबरें भी फैला रहा है. चीन की लगातार धमकी के बाद भारत ने डोकलाम में अपनी सेना बढ़ा दी है.

आपको बता दें अरुण जेटली ने कई बार यह बात बोली है कि भारत किसी भी तरह के युद्ध में लड़ने के लिए सक्षम है. आपको बता दें चीन ने हाल ही में कहा था कि भारत अब उलटे दिन गिनना शुरू कर दे जिसके बाद जेटली ने कहा भारत युद्ध के लिए तैयार है. मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी कहा जा रहा है कि भारतीय फौजियों ने सीमा से सटे नाथंग गांव को खाली करा दिया है.

source

आपको बता दें भूटान और भारत के बीच काफी अच्छे संबंध हैं और 1949 की संधि के मुताबिक, ये विदेशी मामलों में भारत सरकार की ‘सलाह से निर्देशित’ होगा. बता दें संधि फिर 2007 दोहराई गई है.

source

ज्ञात हो भूटान से होने वाले सारे कारोबार की ज़िम्मेदारी भारत की है और भारत भूटान के भू- भाग के मामले भी देखता है. जानकर हैरानी होगी कि भारत भूटान को आर्थिक रूप से मदद करता है और सूई से लेकर कार तक सभी समान मुहैया कराता है.

source

बता दें भारत भूटान की मदद से अपनी बिजली की जरूरत को पूरा करता है और भूटान की अपनी कोई सेना वायु या जल सेना नहीं है ऐसे में भूटान को सुरक्षा देना भारत का काम है. आपको बता दें भूटान के पास बस एक थल सेना है जिसका नाम है रॉयल सेना उसने उल्फा के सभी कैम्पों को नष्ट कर दिया था.

source

ऐसे में आपको बता दें चीन की निगाहें भूटान पर हैं ताकि वो उसे तिब्बत बना सके, इसके लिए चीन डोकलाम में हमले की तैयारी कर रहा है.  अगर चीन यहां सड़क बनाने में कामयाब होता है, तो उसके लिए भारत के चिकन नेक कहे जाने वाले सिलीगुड़ी तक पहुंच काफी आसान हो जाएगी.

Facebook Comments