रूस के TOP-5 करीबी देशों को लेकर हुआ सर्वे, सामने आये ऐसे आंकड़े जिसमें भारत को…

भारत और रूस की दोस्ती अक्सर चर्चे में रहते हैं, रूस भारत के लिए कई मौकों पर मददगार भी साबित हुआ है. अभी हाल के ही दिनों पीएम मोदी और ब्लादिमीर पुतिन के बीच जिस तरीके से मुलाकात हुई है उससे दोनों देशों के बीच रिश्तों में मिठास आई है तमाम विरोधी देशों की नींद उड़ी हुई है. यही नहीं इन दोनों देशों के बीच की दोस्ती को लेकर जब रूस की एक संस्था ने पोल कराए तो जो नतीजे सामने आये वो हैरान कर देने वाले थे. दरअसल अभी कुछ दिनों पहले माना जा रहा था कि रूस का झुकाव पाकिस्तान की तरफ बढ़ा है, जिससे भारत और रूस की दोस्ती पर असर पड़ सकता है लेकिन रूस में हुए इस पोल ने ऐसी सारी आशंकाओं पर पानी फेर दिया.

मोदी सरकार आने के बाद रूस से भारत के रिश्ते और बेहतर हुए हैं (फोटो सोर्स: India.com)

NBT के मुताबिक रूस की एक अकेली गैर-सरकारी चुनावकर्ता संस्था ‘लवादा सेंटर’ ने एक पोल कराया जिसमें रूस के टॉप-5 करीबी देशों के बारे में पूछा गया. बता दें कि यह संस्था अपने पोल को लेकर काफी फेमस है. इसके द्वारा किये गये नये सर्वे में सामने आया है कि भारत अब भी रूस के सबसे भरोसेमंद देशों शामिल है.

रूस को किसी भी हालत में खोना नहीं चाहते पीएम मोदी (फोटो सोर्स: नव भारत टाइम्स)

पोल के मुताबिक रूस के सबसे करीबी देशों में भारत के साथ-साथ चीन, कजाखिस्तान, सीरिया, बेलारूस का भी नाम शामिल है. दरअसल पिछले कुछ दिनों से माना जा रहा था कि रूस और भारत के रिश्तों पर बर्फ जम गयी है, लेकिन जब पिछले महीने एक दिन के लिए पीएम मोदी रूस की यात्रा पर गये और पुतिन से मिले तो इस बर्फ को पिघलने में जरा सी भी देर नहीं लगी.

पुतिन की छवि एक वैश्विक और सशक्त नेता के तौर पर है (फोटो सोर्स: Everything-pr.com)

रूस के दुश्मन देश 

दोनों देशों के लोग आज भी एक दूसरे को अपना सहयोगी और करीबी देश मानते हैं. वहीं इस पोल में रूस के दुश्मन देशों के बारे में भी पूछा गया. इस सवाल के जवाब में भी काफी दिलचस्प आंकड़ें सामने आये.

रूस के दुश्मन देशों में अमेरिका का सबसे पहले स्थान है. रूस की जनता अमेरिका के बाद लुथानिया, लातविया, यूक्रेन और जर्मनी को भी अपने देश का दुश्मन मानती है.

Facebook Comments