तेजस्वी ने क्या कर दिया ऐसा कि लालू यादव ने अपनी ही प्रेस कांफ्रेंस में लगाई बेटे को लताड़ ?

राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार के दिन अभी कुछ महीनों से ठीक नहीं चल रहे है. सीबीआई के छापे के बाद लालू यादव ने शुक्रवार को एक प्रेस कांफ्रेंस की. इसमें लालू ने मीडिया को संबोधित करते हुए अपने ऊपर लगे आरोपों का मीडिया को जवाब दिया. इसी बीच जब अर्नब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक के एक पत्रकार ने जब सवाल पूछा तो लालू के बेटे तेजस्वी यादव भड़क गए. तेजस्वी यादव ने रिपब्लिक की महिला पत्रकार से कहा कि वह यहां पर ड्रामा करने आई हैं. तेजस्वी यादव यहीं नहीं रुके और उन्होंने चैनल को एंटी नेशनल तक कह दिया. इस तरह से बात करने पर लालू यादव ने अपने बेटे को रोकना चाहा लेकिन तेजस्वी नहीं रुके और बोलते गए. तेजस्वी ने उस महिला पत्रकार ने कहा कि क्या वह मोदी के कहने पर सवाल पूछ रहीं हैं , क्या आपने कभी मोदी से पूछा कि वह 15 लाख का सूट क्यों पहनते हैं ?

Source

अर्नब के चैनल रिपब्लिक पर भड़के लालू के बेटे

तेजस्वी यादव के इस तरह बोलने पर लालू यादव ने तेजस्वी को डांटते हुए चुप रहने को कहा. लालू यादव ने अपने बेटे तेजस्वी यादव से कहा कि क्यों न्यूज़ बना रहे हो ? लालू यादव ने अपने ऊपर लगे होटल को लीज पर देने की गड़बड़ी के आरोपों को गलत बताया और कहा कि होटल को लीज पर देने का जो टेंडर निकला वह एनडीए के शासन में 2003 में निकाला गया था और इस होटल को एनडीए सरकार ने ही लीज पर दिया. लालू यादव ने कहा कि इस पूरे मामले में आख़िरकार राबड़ी देवी और उनके बेटे तेजस्वी को क्यों फंसाया जा रहा है. लालू ने कहा कि उस वक्त तेजस्वी नाबालिक था.

Source

लालू यादव का आरोप बदले की कार्यवाही कर रही बीजेपी

लालू यादव ने इस प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि बीजेपी इस तरह से बदले की कार्यवाही कर रही है. इसी के साथ लालू ने कहा की बीजेपी चाहती है कि बिहार में महागठबंधन ख़त्म हो जाए. लालू ने मोदी और अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा कि सुनो मोदी और अमित शाह फांसी के फंदे पर लटक जाएंगे लेकिन तुम्हारे अहंकार को चूर चूर कर देंगे. बीजेपी को उखाड़ फेंकेंगे. सीबीआई लालू यादव पर जिस मामले को लेकर कार्यवाही कर रही है उस केस में लालू के रेलमंत्री रहते हुए एक प्राइवेट कम्पनी को गलत तरीके से लाभ पहुंचाने का आरोप है.

Source

कैसे 32 करोड़ की जमीन को 65 लाख रुपए ले लिया

सीबीआई ने बताया कि होटल को लीज पर देने के बदले एक निजी कम्पनी को फायदा पहुंचाया गया है. इसके अलावा बदले में जमीन दी गई है. सीबीआई ने बताया है कि 32 करोड़ की जमीन को महज 65 लाख रुपए में ले ली गई. सीबीआई ने इस मामले में दिल्ली ,पूरी ,रांची और गुरुग्राम में छापेमारी की है.सीबीआई ने इस मामले में लालू यादव , लालू यादव की पत्नी राबड़ी देवी और बेटे तेजस्वी यादव समेत सात लोगों को नामजद किया गया है.

Source

नीतीश पर बड़ा दवाब जा सकती है तेजस्वी की कुर्सी ?

सीबीआई की इस कार्यवाही के बाद बिहार की राजनीति का पारा गरमा गया है. बताया जा रहा है कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार लालू यादव के बेटे को जो राज्य के उपमुख्यमंत्री है उनको पद से हटाने की सोच रहे है. सीबीआई ने जब से तेजस्वी का नाम भ्रष्टाचार के मामले में लिखा है तब से नीतीश कुमार पर तेजस्वी को उनके पद से हटाने का दवाब बढ़ गया है. विपक्षी पार्टियों में भी इसको लेकर आवाज उठाने लगी है.बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने तो नीतीश कुमार से मांग कर डाली कि लालू के दोनों बेटों को कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया जाए.

 

Facebook Comments