मोदी के स्वच्छ भारत ,स्वस्थ भारत सपने पर बीजेपी महिला सांसद और प्रवक्ता ने पानी फेरा

नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से देश की अर्थव्यवस्था में कभी सुधार देखने को मिला हैं | मोदी तीन साल से लगातार काम करने वाले एकलौते प्रधानमंत्री बने है | देश में काला धन और भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए काफी योजना को बनाया गया है | जिसमें स्विस बैंक से भारत के लोगों की लिस्ट लेना और  भारत में नोटबंदी लागू कर देश से काला बाज़ार और नक्सलवाद कि बुरी तरह से कमर तोड़ दी | मोदी युवाओं के लिए स्टार्ट-अप और मेक इन इंडिया जैसे अभियान को शुरू किया | इसके साथ साथ मोदी ने हर वर्ग के लिए योजनाओं द्वारा लाभ प्रदान किया हैं |

source

मोदी सरकार द्वारा स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत अभियान चलाया गया है जिसमें भारत को गंदगी से मुक्त करना है | देश और पर्यावरण को पूरी तरह से स्वच्छ बनना भी मोदी का मकसद है | लेकिन मोदी का इस सपने पर बीजेपी पार्टी की पढ़ी लिखी सांसद  और सुप्रीम कोर्ट की वकील ने मिटटी डाल दी है | बीजेपी पार्टी की सांसद का दिल्ली में औदाह और रुतबा काफी है | बीजेपी पार्टी की सांसद होने के साथ साथ यह महिला बीजेपी पार्टी की प्रवक्ता भी हैं |

source

मोदी सरकार के स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत अभियान पर यह महिला कचरा कर रही थी तब उस समय केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान, केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी, सांसद उदित राज और दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक जैसे अफसर और नेता भी मौजूद थे | अपनी आँखों के सामने यह सब होते देख भी बीजेपी के नेता और  बाकि अफसर सिर्फ बैठे रहे  |

source

मामला 27 जून मंगलवार का है जब मीनाक्षी लेखी  इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड की तरफ से दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुँचीं थी | इस  कार्यक्रम में  वाहनों को प्रदूषण मुक्त बनाने और चालकों को स्वस्थ रखना था | कार्यक्रम का उद्घाटन  मीनाक्षी लेखी द्वारा करायाअ जिसके बाद उन्हें बोर्ड पर एक सन्देश लिखने को बोला गया जिसमें मीनाक्षी लेखी ने स्वच्छ भारत , स्वस्थ भारत कि जगह गलत सवच्छ भारत , सवस्थ भारत लिख दिया |

source

 

Facebook Comments