इस मुस्लिम ने वेद और श्रीमद्भगवत् गीता को लेकर जो कहा है उसे सुनकर हिन्दू-मुसलमान दोनों की नींद उड़ जायेगी !

भारत एक ऐसा देश हैं जहां कई तरह के लोग रहते हैं और हर धर्म को सम्मान करते हैं l यह कहना गलत नहीं होगा इन दिनों कुछ लोगों ने धर्म के कारण बुरी तरह से लड़ रहे हैं और ज़िम्मेदार सरकार को बताते हैं l जहां एक तरफ आये दिन हिन्दू मुस्लिम झगड़े होते हैं वहीं दूसरी तरफ एक तरफ एक ऐसा मुसलमान भी है जिसने श्रीमद्भगवत् गीता के जरिए जो सन्देश दिया है उसे जानकर  आपको यकीन नहीं होगा l  जो वीडियो हम आपको दिखाने वाले हैं उसे देखने के बाद आप यकीन नहीं कर पाएंगे..

source

 

मुस्लिम योव्क ने  बताया कि भगवान और अल्लाह एक ही हैं। ये तो इंसान हैं जो आपस में भेदभाव करते हैं। वीडियो में दिख रहे शख्स ने कहा, “भगवत गीता में पहला संदेश वाहदत-ए-खुद और दूसरा संदेश वाहदत-ए-इंसानियत का दिया गया है।” वाहदत-ए-खुद का मतलब ईश्वर एक है और वाहदत-ए-इंसानियत मतलब सभी इंसान एक साथ हैं।

 

source

वीडियो में युवक ने वेदों में लिखे एक श्लोक का उच्चारण किया, जोकि इस प्रकार है,
“अयं निज: परो वेति गणना लघुचेतसाम् ।
उदारचरितानां तु वसुधैव कुटुम्बकम् ॥”

देखिये वीडियो ! 

https://youtu.be/jO2fJy09kJg

 

 

शख्स ने कहा कि जिन लोगों का सोच छोटी होती है वही अपनों और परायों की बात करते हैं। लेकिन जिन लोगों का दिल और दिमाग ऊंचा होता है वह इस तरह रहते हैं मानों पूरा संसार ही उनका परिवार हो।