जिन महिलाओं को योगी आदित्यनाथ ने तीन तलाक़ की कुप्रथा से बचाया उन्होंने सीएम को भेज डाली ‘ऐसी चीज़’ जिसपर किसी को नहीं होगा यकीन

देश में काफी समय से ज़ोरोशोरो से चल रहा तीन तलाक़ का मुद्दा बीते दिनों बढ़ते-बढ़ते इतना बढ़ चुका था कि ये वक़्त की ज़रूरत हो गयी थी कि इस मुद्दे को जल्द से जल्द ख़त्म किया जाये. देश में तीन तलाक़ के मुद्दे ने धीरे-धीरे ऐसा रूप धारण कर लिया था जिसे देखकर डर लगने लगा था.  फिर बात करिए चाहे कभी किसी पति का स्पीड पोस्ट से अपनी पत्नी को तीन तलाक़ का फरमान भेजने की या फिर कभी लाइव शो में इस मुद्दे पर चल रही बहस का लड़ाई में तब्दील हो जाने की.

source

जहाँ एक तरफ मुस्लिम धर्मगुरु, मौलवी किसी भी कीमत पर तीन तलाक़ की कुप्रथा को ख़त्म ही नहीं करना चाहते थे तो वहीँ दूसरी तरफ सीएम योगी की सरकार ने ये कुप्रथा झेल रही मुस्लिम महिलाओं के हित में कई फैसले लिए. सिर्फ यही नहीं खुद पीएम मोदी भी देश में से तीन तलाक़ जैसी कुप्रथा को जड़ से ख़त्म करने के लिए कई सख्त कदम उठाये हैं.

source

ऐसे में हाल ही में मुस्लिम महिलाओं को इस कुप्रथा के श्राप से बचाने के लिए योगी सरकार ने तीन तलाक़ की कुप्रथा झेल रही मुस्लिम महिलाओं के लिए एक एहम कदम उठाया है जिसके तहत यूपी सरकार ने ऐसी महिलाओं के लिए आश्रम खोलने का फैसला किया था जिसमें इन महिलाओं के रहने और उनके रोजगार की पूरी व्यवस्था थी.

source

यहाँ हम आपको याद दिला दें कि योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद तीन तलाक की शिकार कई महिलाओं ने उनसे मदद की गुहार की थी. योगी सरकार ने इन महिलाओं के लिए वैसे ही आश्रम खोलने का फैसला लिया जैसे आश्रम विधवा महिलाओं के लिए बने हुए हैं.

source

ऐसे आश्रमों में पीड़ित महिलाओं के रहने और खाने पीने के साथ उनके बच्चों की शिक्षा की व्यवस्था की गयी. सीएम योगी के इस ऐतिहासिक फैसले के तहत तीन तलाक़ से पीड़ित इन महिलाओं को रहने खाने की जगह के साथ ही उनको सिलाई, कंप्यूटर और स्व-रोजगार की भी सुविधा दी गयी थी जिससे की वो फिर से अपने पैरों पर खड़ी हो सकें.

source

 हम यहाँ आपको बता दें कि तीन तलाक के मुद्दे को द्रोपदी के चीरहरण से जोड़ते हुए योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में इसके खिलाफ सभी से आवाज उठाने की अपील की थी. ऐसे में समय-समय पर तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं की मदद करने वाले सीएम योगी को मुस्लिम महिलाओं ने रक्षाबंधन का तोहफ़ा बता कर ऐसी चीज़ भेजी है जिसे देखकर यकीन कर पाना मुश्किल है.

source

जानिए क्या भेजा है मुस्लिम महिलाओं ने सीएम योगी को

बता दें कि ट्रिपल तलाक के मुद्दे को लेकर चल रही बहस के बीच मुस्लिम महिलाओं ने अपने ‘भाई’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ को रक्षा बंधन पर बेहद ही अनोखी सौगत भेजी है. ये बात तो किसी से छुपी नहीं है कि ट्रिपल तलाक जैसी कुप्रथा को लेकर महिलाओं की आवाज उठाने पर उन्होंने सीएम योगी और पीएम मोदी के निरंतर प्रयासों की सराहना की है.

source

दरअसल यूपी की राजधानी लखनऊ में मुस्लिम समुदाय की महिलाओं ने ट्रिपल तलाक का मुद्दा उठाने के प्रयासों की तारीफ करते हुए पीएम मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ को रक्षा बंधन के त्योहार पर राखी भेजी है.

source

बता दें कि न्यूज एजेंसी एएनआई ने इन मुस्लिम महिलाओं की तस्वीर अपने अकाउंट पर शेयर की है. इन तस्वीरों में मुस्लिम महिलाओं के हाथ में पीएम मोदी और सीएम योगी की तस्वीरें और तोहफे के रूप में राखी लिए हुए दिखाया गया है.

source

इस तस्वीर में से एक तस्वीर में लिखा है कि, “टू पीएम मोदी भाई.” याद दिला दें तो बीते दिनों ट्रिपल तलाक के कई मामले सामने आए. ट्रिपल तलाक के विरोध में मुस्लिम महिलाओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसे खत्म करने के लिए गुहार लगाई थी.

source

सिर्फ यही नहीं याद हो तो चुनाव से पहले भी बीजेपी ने तीन तलाक को खत्म करने की बात कही थी. पीएम मोदी ने भी कई मौकों पर तीन तलाक के बारे में अपनी राय रख चुके हैं और मोदी सरकार इसे खत्म करने की पक्ष में है. इसी तरह योगी आदित्यनाथ भी ट्रिपल तलाक की निंदा कर चुके हैं.

source

आपकी जानकारी के लिए हम आपको याद दिला दें कि पीएम मोदी ने भुवनेश्वर में आयोजित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में कहा था कि इस वक़्त हमारी मुस्लिम बहनें तकलीफ में हैं. उनके साथ न्याय होना चाहिए. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर बीजेपी का रुख एक दम साफ है.