अमेरिका द्वारा घोषित खूंखार अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी सलाउद्दीन के बारे में एक पाकिस्तानी एंकर ने जो कहा है उसे सुन अमेरिका तक को लग सकता है जोर का झटका

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिकी दौरे के दौरान डोनाल्ड ट्रम्प ने खूंखार आतंकी को सलाउद्दीन को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित कर दिया गया था l भारत-पाकिस्तान के रिश्ते से तो हर कोई वाकिफ है भारत-पाक के बीच हमेशा तनातनी होती दिखी है लेकिन पाक अपनी नापाक हरकतों से बाज आने का नाम नहीं ले रहा है l पाकिस्तान पर इस बात का कोई असर नहीं पड़ता है l वहीं अमेरिका भारत के साथ साझेदारी करके आतंकवाद को लेकर पाक पर दवाब बना रहा है l हाल के दिनों में जिसका असर देखने को मिला है l फ़िलहाल में अगर पाकिस्तान भारत से दुखी है तो उसकी वजह भारत की अफगानिस्तान से बढती दोस्ती है l

Source

भारत-अफगानिस्तान की दोस्ती को लेकर पाक ने खुद पाकिस्तानी मीडिया ने इसका खुलासा किया है l पाकिस्तान के टॉक शो सेंट्रल न्यूज़ चैनल की डिबेट के दौरान उसने माना है कि अफगानिस्तान के बढते प्रभाव से अमेरिका और भारत के रिश्ते काफी अच्छे हुए हैं जो हमारे लिए अच्छा नहीं है l पाकिस्तान में इन दिनों हिजबुल मुजाहिद्दीन के सुपरिटेंडेट कमांडर सय्यैद सलाहुद्दीन को अमेरिका द्वारा अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित करने की चर्चा जोरों पर है l

Source

पाकिस्तानी मीडिया को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है l पाकिस्तानी मीडिया सलाउद्दीन को ‘फ्रीडम फाइटर’  साबित करने पर तुला हुआ है l पाकिस्तानी मीडिया ने माना है कि अमेरिका के प्रभाव से भारत उसके लिए मुसीबत बनकर उभर कर खड़ा हो रहा है l पाकिस्तानी चैनल के एक एंकर ने कहा है कि भारत और अमेरिका के बीच व्यापारिक सम्बन्ध अच्छे है तथा अमेरिका वह रिश्ते कभी खराब करना नहीं चाहता है l इसी वजह से उसने भारत का सम्मान करते हुए सलाउद्दीन को वैश्विक आतंकी घोषित किया है l

वीडियो में देखें किस तरह डिबेट के दौरान क्या बोल रहा है एंकर

https://youtu.be/RC00QLxIVCI

चैनल के कार्यक्रम में आये इन सभी मेहमानों में से किसी ने सलाउद्दीन को आतंकी ठहराने से सहमति नहीं जताई l चैनल के कार्यक्रम में आये सभी गेस्टों ने तर्क दिया कि वो अपने मुल्क के लिए लड़ रहा है l अपने मुल्क को लेकर लड़ने वाले को आतंकी नहीं कहा जाता उसे फ्रीडम फाइटर कहा जाता है l

Source

डिबेट के दौरान एक अन्य गेस्ट ने कहा कि भारत और अमेरिका के बीच में जो खिचड़ी पक रही है उसे हम अच्छे से जानते हैं l उन्होंने कहा अमेरिका और भारत के सम्बन्ध इस लिए अच्छे हैं क्यों कि अफगानिस्तान और ईरान में भारत का अच्छा प्रभाव है l उन्होंने कहा, ”ईरान और भारत के बीच व्यापारिक संबंध इसलिए अच्छे हैं, क्योंकि जब ईरान आर्थिक मंदी की दौर से गुजर रहा था, तब भारत ने ईरान में 3 मिलियन डॉलर का निवेश किया था। उस दौरान ईरान में तेल की कुओं पर पाबंदियां लगी हुई थी। लेकिन भारत लगातार तेल खरीदता रहा। उस समय अमेरिका ने एक बार भी भारत से नहीं पूछा कि तुम तेल क्यों खरीद रहे हो l

कुल मिलाकर पाकिस्तानी मीडिया सलाउद्दीन को आतंकी ठहराए जाने को लेकर विरोध कर रहा है तथा उसका मानना है कि सलाउद्दीन देश के लिये लड़ रहा है वह देश भक्त है l

 

Facebook Comments