Breaking News
जब मजबूरन एक बेटी को उठाना पड़ा ये बड़ा कदम, अपने पिता के लिए

जब मजबूरन एक बेटी को उठाना पड़ा ये बड़ा कदम, अपने पिता के लिए

बाप-बेटी के प्रेम की अजब बेमिसाल जिसमे बेटी ने पार की सारी हदे  

आज हम आपके सामने एक ऐसी पेंटिंग की पीछे की कहानी ला रहे हैं जिसकी वजह से समाज दो भागो में बंट गया थाl धर्म के ठेकेदार इस पेंटिंग के पीछे की कहानी को जाने बिना ही लोगों को अपनी बातों से भड़का रहे थेl इस पेंटिंग को यूरोप के प्रसिद्ध कलाकार बारतोलोमिओ एस्तेबन मुरिलो ने बनाया थाl यह पेंटिंग उनकी सबसे चर्चित पेंटिंग में से एक थीl जैसा की आप देख रहे हैं कि इस पेंटिंग में एक महिला एक बुजुर्ग को स्तनपान करा रही हैl यह पेंटिंग एक लाचार बाप बेटी की ऐसी कहानी को बयां करती है जिसे सुनने के बाद शायद आप भी सहम हो जाएंl

दरअसल इस बूढ़े बाप को एक शासक ने पूरी जिंदगी भूखे रहने की सजा दी थीl इस बुजुर्ग व्यक्ति की एकलौती बेटी थीl जिसने शासक से ये दरख्वास्त की थी कि उसे अपने पिता से रोज मिलने दिया जाएl शासक ने बेटी की ये गुहार सुन ली और बेटी को अपने पिता से मिलने देने की अनुमति दे दी, लेकिन बंदीगृह में जाने से पहले इस बुजुर्ग की बेटी की बहुत अच्छे से तलाशी ली जाती थी और इसी वजह से वह अपने पिता के लिए कुछ भी खाने की वस्तु अंदर नहीं लेजा सकती थीl

जैसा कि अपने पिता को हर रोज मरते देखना किसी भी बेटी के लिए आसान नहीं होताl अब वह अपने बुजुर्ग पिता से रोज मिल तो रही थी लेकिन खाना पीना न मिलने की वजह से वह अपने पिता को मौत की तरह जाता महसूस कर रही थीl बेटी बस लाचारी से अपने पिता को मरते हुए देख रही थी जिसकी वजह से अक्सर वह बहुत उदास भी रहने लगी थीl

एक दिन कैदी बाप से मिलने आई बेटी को देख जेलर के उस वक्त होश उड़ गये जब उसने दोनों को आपतिजनक हालत में देखा, जी हाँ बेटी और बाप की ये अनोखी बेमिसाल प्रेम की दास्ताँ ने न केवल उस वक्त लोगों को हिला दिया था बल्कि आज भी जिसने इस बारे में सुना वे दंग रह गयाl

जेलर ने देखा बेटी भूखे बाप को करा रही है स्तनपान 

आपको बता दें कि एक दिन इस बेटी ने अपने पिता की भूख मिटाने के लिए कुछ ऐसा कर दिया जिसकी वजह से समाज दो भागों में बंट गयाl एक तरफ वो लोग थे जो इस महिला को सजा देना चाहते थे तो दूसरी तरफ वो लोग थे जो महिला को साहसी बता रहे थेl दरअसल इस महिला ने अपने पिता की भूख मिटाने के लिए उन्हे अपना दूध पिलाना शुरू कर दियाl जिससे पिता की हालत में सुधार होने लगाl पर एक दिन पहरेदारों ने ये देख लिया और इस महिला को शासक के सामने पेश कियाl
इस घटना ने समाज में खलबली मचा दीl लोग दो गुटों में बंट गये, एक गुट इसे निंदनीय मानकर पवित्र रिश्ते के हनन के साथ निंदनीय अपराध मान रहा था, तो दूसरा गुट इसे पिता के प्रति प्यार और स्नेह की महान भावना की मिसाल बता रहा थाl इस मामले ने बहुत तूल पकड़ा, लेकिन आखिर मानव मूल्यों की जीत हुई और दोनों बाप-बेटी को रिहा कर दिया गयाl इस घटना को कई पेंटरों ने कैनवास पर उतारा जिसमें मुरिलो की यह पेंटिंग बहुत प्रसिद्ध हुईl
Free WordPress Themes - Download High-quality Templates