G-20 समिट के दौरान का ये नज़ारा देखकर चीन की सारी हेकड़ी टूट गई, जब डोनाल्ड ट्रम्प ने जिंगपिंग को नज़रंदाज़ कर किया कुछ ऐसा कि..

पीएम मोदी के इज़राइल दौरे के ख़त्म होते ही G-20 समिट शुरू हुआ जहाँ 20 देशों के नेता मिले जहाँ उन्होंने इस 12वें जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान आतंकवाद से मुकाबला और आथर्कि सुधार जैसे मुद्दों पर बात की और अपना-अपना पक्ष रखा. इसके साथ ही इस समिट में मुक्त और खुला व्यापार, जलवायु परिवर्तन, आव्रजन, सतत विकास और वैश्विक स्थायित्व जैसे विषयों पर भी संभावित चर्चा की गयी. यूँ तो  G-20 समिट अब पूरा हो चुका है लेकिन इसी समिट के दौरान यहाँ दूसरे ही दिन एक ऐसा नज़ारा देखने को मिला जिसने वहां मौजूद कई लोगों के पसीने छुड़ा दिए.  summit

source

जब अपनी निर्धारित जगह छोड़कर पीएम मोदी के साथ खड़े हुए डोनाल्ड ट्रम्प 

दरअसल G20 समिट के दौरान ट्रम्प को सबसे आगे की लाइन में खड़ा होना था और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दूसरी लाइन में जगह दी गयी थी, लेकिन इसे दोस्ती कहिये या कुछ और डोनाल्ड ट्रम्प ने जैसे ही देखा कि पीएम मोदी दूसरी लाइन में हैं वो तुरंत ही अपनी लाइन तोड़ कर पीएम मोदी के साथ आकर खड़े हो गये और उनसे हाथ मिलाते हुए अपनी दोस्ती का अनोखा परिचय दिया. ये अपने आप में एक सन्देश है, लेकिन इसी दौरान पहली पंक्ति में ही मौजूद जिनपिंग का चेहरा भी काफी कुछ बयां कर रहा था.

शिखर सम्मेलन में भारत की तरफ से अरविन्द पनगढ़िया ने दोनों नेताओं और अन्य नेताओं की तस्वीरों के साथ संवाद के बारे में ट्वीट किया. बताते चलें कि यह संवाद जी 20 शिखर सम्मेलन के दूसरे दिन के सत्र की शुरूआत से पहले हुआ. अरविन्द पनगढ़िया ने अपने ट्वीट में लिखा, ”जी 20 शिखर सम्मेलन में संवाद के दौरान अमेरिका के राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर हाथ हिलाया, उनके पास आ गए. अन्य नेता वहां एकत्र हो गये। खूबसूरत लम्हा.”

source

चीन को डोनाल्ड ट्रम्प का सन्देश: “अकेला ना समझे भारत को” 

इस तरह से अपनी निर्धारित जगह छोड़कर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का पीएम मोदी के पास आना कई तरह की बातों साफ़ करता है. जिनमे से प्रमुख तौर बार ये बात निकल कर सामने आती है कि भारत कहीं भी अकेला नहीं है. फिर बात करिए चाहे आतंकवाद के खिलाफ़ लड़ाई हो या कुछ भी और अमेरिका हर वक़्त ही भारत के साथ कंधे-से-कंधा मिलाकर खड़ा है.

source

आप भी ये वीडियो गौर से देखेंगे तो आपको भी समझ आ जायेगा कि कैसे बिना कुछ बोले डोनाल्ड ट्रम्प ने चीन को उसकी नीचता का सबक सबके सामने कुछ इस अंदाज़ में दे दिया जिसके बाद जिनपिंग की भी हवाईयां उड़ी हुई नज़र आयीं.

देखिये वीडियो: 

 


American President Donald Trump At G20 Summit… by iSupportNamo

 

चीन की नीचता

आतंकी देश पाकिस्तान का घनिष्ठ मित्र बना हुआ चीन आये दिन भारत के साथ नीचता दिखाने में कोई कसर नहीं छोड़ता. बता दें कि सिक्किम बार्डर पर बीते कुछ दिनों से भारत और चीन के बीच तनातनी लगातार चली आ रही है. इसे चीन की नीचता ही कहा जायेगा कि वो खुद भारतीय सेना के जवानों को उकसा कर उलटे भारतीय सैनिकों पर ही चीनी क्षेत्र में घुसने का आरोप लगाया है. चीन ने हाल ही में दिए अपने बयान में कहा था कि  भारतीय सैनिकों ने चीनी सीमा में घुसकर डोकलाम में चल रहे रोड निर्माण कार्य को रोका है. जबकि इस क्षेत्र पर भूटान अपना अधिकार बता रहा है.

source

क्या है भारत का पक्ष

चीन के इस बेसिरपैर के आरोपों का खंडन करते हुए भारत भूटान का समर्थन कर रहा है. भारत का कहना है कि, “चीन, भूटान की सीमा में रोड निर्माण कर रहा है. वाजिब है जिससे भारत की सीमा की सुरक्षा पर असर पड़ सकता है, लेकिन चीन उस जगह को अपनी बताने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है. वो अपने बयान पर अडिग है तो भारत अपने पक्ष पर. इसी बात के मद्देनजर दोनों देशों के बीच बीते एक महीने से गहमागहमी चल रही है जिसका असर G-20 समिट में भी देखने को मिला.

Facebook Comments