पीएम मोदी के इज़राइल दौरे से पहले इज़राइली पीएम ने ट्वीट में पीएम मोदी के लिए ये क्या कह दिया?

मंगलवार 4 जुलाई से पीएम मोदी का विदेश दौरा शुरू होने वाला है| इस विदेश दौरे पर पीएम मोदी इजराइल में होंगे| पीएम मोदी का ये इज़राइली दौरा कई मायनों में ऐतिहासिक माना जा रहा है| जहाँ एक तरफ दुनिया दो करीबी दोस्त माने जाने वाले प्रधानमंत्रियों को मिलते देखेगी तो वहीँ ऐसा भी अनुमान लगाया जा रहा है कि इस दौरे पर दोस्ती के बीच आने वाले कई प्रोटोकॉल भी टूटेंगे| बता दें कि ये दौरा भारत और इज़राइल  के कुटनीतिक रिश्तों के 25 महत्वपूर्ण साल पूरे होने के मौके पर आयोजित किया गया है| दूसरा, देखा जाये तो ये दौरा इसलिए भी ख़ास माना है क्योंकि ये किसी भी भारतीय प्रधानमंत्री का पहला इज़राइली दौरा है|

source

बीजेपी और इज़राइल 

माना जाता रहा है कि बीजेपी शुरू से ही इज़राइल के साथ मजबूत संबंध बनाने पर ज़ोर देती रही है| फिर बात करिए चाहे अटल बिहारी वाजपेयी जी की जिनके कार्यकाल में भारत और इज़राइल के संबंध को एक अलग ही ऊंचाई पर पहुँचाने की कोशिश की गयी थी या अब खुद ही पीएम मोदी के प्रयासों को देख लीजिये| याद दिला दें कि अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में ही इजरायल के तत्कालीन राष्ट्रपति एरियल शेरोन भारत की यात्रा पर आए थे। वह किसी भी इजरायली राष्ट्रपति का पहला भारत दौरा था।

source

इन्ही नजदीकियों की एक झलक है इज़राइली पीएम का ये ट्वीट 

पीएम मोदी के इज़राइल दौरे का उत्साह भारत से कहीं ज्यादा इज़राइली लोगों में देखने को मिला है| फिर बात करिये चाहे इज़राइल से आये एक वीडियो की जहाँ के लोग टूटी-फूटी ही सही लेकिन दिल को छू लेने वाली हिंदी में पीएम मोदी का स्वागत करते नज़र आये, या दूसरी तरफ पीएम के इज़राइल पहुँचने से महज़ कुछ घंटे पहले किया गया ये ट्वीट ही उदाहरण के तौर पर ले लीजिये|

source

3 जुलाई को लगभग दिन के 2 बजे इजराइल के प्रधानमंत्री के ट्विटर अकाउंट से अपने और पीएम मोदी की होने वाली मुलाकात का जिक्र करते हुए एक के बाद एक कई ट्वीट किये गए| एक ट्वीट में इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने लिखा है कि, “कल मेरे दोस्त, भारत के प्रधानमंत्री, नरेन्द्र मोदी इज़राइल पहुँच जायेंगे| भारत सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है| 

source

बेंजामिन नेतन्याहू ने पीएम मोदी के स्वागत में किये गए इन ट्वीट में से एक ट्वीट में लिखा कि, “ये 70 साल में पहली बार किसी भी भारतीय प्रधानमंत्री के लिए एक ऐतिहासिक दौरा होने वाला है| ये दौरा साफ़ इस बात को दर्शाता है कि भारत से हमारे रिश्ते और मज़बूत होने वाले हैं|”

source

प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू यहीं नहीं रुके| एक ट्वीट में अपने और पीएम मोदी के साथ होने वाली मीटिंग का ज़िक्र करते हुए नेतन्याहू लिखते हैं कि, ” इस दौरे के दौरान मैं प्रधानमंत्री मोदी को कई मीटिंग में साथ दूंगा|”

source

इज़राइल रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने भी किया था ट्वीट

हालाँकि इज़राइल और भारत के बीच रिश्तो की ये मिठास एकतरफ़ा नहीं है| बताते चलें कि पीएम मोदी खुद भी इज़राइल रवाना होने से पहले ट्वीट किया था कि, “मैं प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के निमंत्रण पर चार-छह जुलाई तक इजरायल के दौरे पर रहूंगा। इजरायल का दौरा करने वाले पहले प्रधानमंत्री के रूप में मैं इस अभूतपूर्व दौरे को लेकर अत्यंत उत्सुक हूं, जो हमारे दोनों देशों और दोनों देशों के लोगों को करीब लाएगा।”

source

ये होगी इस दौरे की खासियत

हालाँकि प्रधानमंत्री मोदी का ये इज़राइल दौरा यूँ तो हर मायने में ख़ास होने वाला है लेकिन हम आपको इस दौरे से जुड़ी एक ख़ास बात और बता दें| दरअसल अप्रैल महीने में भारत ने मिसाइल सुरक्षा प्रणाली एमआरएसएएम खरीदने के लिए इजरायल एयरोस्पेस इंडस्ट्रीज (आईएआई) के साथ 1.6 अरब डॉलर के समझौते पर हस्ताक्षर किया है| यह प्रणाली हर तरह के हवाई खतरे से निपटने के लिए तैयार की गई है और इसमें लॉन्चर, मिसाइल, रडार प्रणाली तथा संचार व नियंत्रण प्रणाली मौजूद हैं। माना जा रहा है कि यह आईएआई के साथ अब तक का सबसे बड़ा समझौता है।

source

जिस होटल में रुकेंगे पीएम मोदी वहां पहले ही हो चुका है आतंकी हमला

जी हाँ बेशक ये बात एक बार को सुनने में अजीब लगे लेकिन ये सच है| इज़राइली मीडिया के अनुसार, प्रधानमंत्री मोदी के रुकने की व्यवस्था यरूशलम के किंग डेविड होटल में की गई है। याद दिला दें तो ये वही होटल है जहाँ आज से 70 साल पहले वर्ष 1946 में बम धमाके का शिकार हो गया था। इस धमाके का जिम्मेदार इज़राइल के जाइनिस्ट गुट को ठहराया गया था। यह हमला कथित तौर पर इज़राइल की आजादी की लड़ाई का प्रतीक था। इसके बाद ही इज़राइल 1948 को आजाद घोषित किया गया।

Facebook Comments