पीएम मोदी की ऐतिहासिक इजराइल यात्रा में छिपा एक ऐसा सन्देश जिसे जानकर आप भी चौंक जायेंगे

पीएम नरेंद्र मोदी के इजराइल दौरे से केंद्र की बीजेपी सरकार का मानना है कि मोदी के इस दौरे से भारत में एक कड़ा राजनीतिक सन्देश गया है .बीजेपी का मानना है कि पिछली सरकारें वोट बैंक की राजनीति के फेर में फंसी हुईं थीं. लेकिन बीजेपी नेशन फर्स्ट पॉलिसी को अपनाने के लिए तैयार है. इजराइल दौरा भारत के पीएम मोदी के लिए इसलिए भी महत्वपूर्ण है ,इससे पहले कोई भी भारतीय प्रधानमंत्री इजराइल देश की यात्रा पर नहीं गया था. राजनीतिक लोगों का मानना  है कि बीजेपी को मुस्लिमों के समर्थन पर कोई निर्भरता नहीं है. मोदी की इस यात्रा से तो यही पता चलता है. इससे पहले किसी भी विपक्षी पार्टी ने इस पश्चिम एशियाई देश से रिश्तों को लेकर आगे कदम नहीं बढाया. विपक्षियों को लगता था कि इससे उनके मुस्लिम वोट बैंक पर प्रभाव पड़ेगा.

Source

बीजेपी की नई नीतियों को सभी वर्गों से मिला समर्थन

अगर बात बीजेपी की करें तो इस पार्टी की राजनीतिक पहुँच का एक विशेष दायरा रहा है. पार्टी नोटबंदी जैसे फैसलों को लेकर इस सीमा को तोड़कर आगे बढ़ती जा रही है. लोगों को नोटबंदी की वजह से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था इसके बाद भी लोगों ने मोदी सरकार के इस फैसले को लेकर अपना पूरा समर्थन दिया था. अब मोदी सरकार ऐसे ही जीएसटी पर भी लोगों के समर्थन की उम्मीद कर रही है.

Source

यूपी में इस कदम से बीजेपी ने अपने विरोधियों को दिखाया आइना

बीजेपी के वोट बैंक की बात करें तो विरोधियों की रणनीति के विपरीत बीजेपी कई अहम फैसले लिए है. यूपी चुनावों को देखा जाए तो बीजेपी ने इस चुनाव में एक भी मुस्लिम प्रत्याशी को खड़ा नहीं किया था. राजनीतिक जानकारों का मानना है कि इस कदम से बीजेपी अपने आपको विपक्षियों से अलग  दिखा सके. यूपी चुनाव के समय बसपा और सपा दोनों पार्टियों ने मुस्लिमों के वोटों को पाने के लिए बहुत मेहनत की. बसपा ने 100 प्रत्याशी खड़े किये तो सपा ने मुस्लिमों के वोट बैंक से अपनी सफलता को सुनिश्चित मान लिया था.

Source

इजराइल की यात्रा को लेकर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने किया ट्वीट

इजराइल दौरे को लेकर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट करते हुए कहा कि इजराइल में पीएम मोदी के सभी कार्यक्रम में मोदी का जोरदार स्वागत हुआ और उनकी भव्य अगवानी को हमेशा याद किया जाएगा. शाह ने आगे लिखा यह अटल जी की सरकार के समय इजराइल के पीएम पहली बार भारत आये. अब मोदी इजराइल के दौरे पर गए हैं. इसी के साथ शाह ने लिखा कि उन्हें बीजेपी के अध्यक्ष के रूप में इस बात पर गर्व है कि पार्टी ने भारत के एक सच्चे मित्र इजराइल के साथ रिश्तों को प्राथमिकता दी.

Source

अमित शाह अटल जी की सरकार का इस समय ख़ास तौर पर जिक्र इसलिए भी कर रहे हैं वो बताना चाहते है कि बीजेपी हमेशा से इजराइल को लेकर सकारात्मक रही है. अमित शाह ने कहा दोनों देशों के पीएम नरेंद्र मोदी और नेतन्याहू ,मजबूत इच्छाशक्ति वाले नेता हैं. ये दोनों नेता ही आतंक को ख़त्म करने के लिए संकल्पबद्ध हैं.  इस देश की यात्रा में इजराइल से हुए समझौते को देखते हुए पाकिस्तान और चीन को बौखलाहट साफ साफ दिखाई दे रही है.