पीएम मोदी ने नीतीश के इस्तीफा देने से 26 मिनट पहले ही दे दी थी बधाई? वायरल हो रहे इस मैसेज का सच तो जान लीजिये

काफी दिनों से पार्टी में चल रही गतिविधियों के बाद अटकले लगायी जा रही थी कि हो सकता है मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अब पार्टी पद से इस्तीफ़ा दे दें. ऐसे में आख़िरकार बुधवार को सभी अटकलों को सही साबित करते हुए नीतिश कुमार ने बिहार के मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया है. सिर्फ यही नहीं इधर नीतिश कुमार ने इस्तीफ़ा दिया और उधर राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने उनका इस्तीफा मंजूर भी कर लिया.  इस्तीफा देने के बाद जब नीतीश कुमार ने मीडिया से बातचीत की तो उन्होंने बताया कि, ” मुझसे जितना संभव हो सका मैंने उतने दिन मैंने सरकार चलाई, लेकिन अब जो हालात हैं उसमे मेरे लिए काम कर पाना संभव नहीं रह गया है और इसलिए मैंने इस्तीफा देने का फैसला किया है.” Nitish

source

बता दें कि नीतीश कुमार के इस्तीफे पर प्रधानमंत्री मोदी ने भी ट्वीट किया कि, “भ्रष्टाचार के ख़िलाफ लड़ाई में जुड़ने के लिए नीतीश कुमार जी को बहुत-बहुत बधाई. सवा सौ करोड़ नागरिक ईमानदारी का स्वागत और समर्थन कर रहे हैं.”
ऐसे में अब इस बात पर अटकले लगायी जा रही हैं कि हो सकता है इस्तीफ़ा देने के बाद नीतिश कुमार बीजेपी का दामन पकड़ लें.

source

लेकिन इसी बीच सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल होता है जिसमे ये कहा जाता है कि पीएम मोदी ने नीतीश कुमार के इस्तीफे से 26 मिनट पहले ही नीतीश कुमार को बधाई दे दी थी. यानी कि ये तो साफ़ है कि हो-ना-हो नीतीश कुमार का ये इस्तीफे का फैसला पीएम मोदी की सोची समझी साज़िश है, लेकिन इस मामले पर अब जो बात सामने निकल कर आ रही है वो ये कि…

source

पहले जान लीजिये क्या है उस वायरल मैसेज में 

नीतीश कुमार का ये इस्तीफ़ा हर मायने में चौंकाने वाला था. इस्तीफे के बाद तरह-तरह की अटकले भी खूब लगायी जा रही हैं कि आखिर इस इस्तीफे का बाद बिहार राजनीति में क्या होगा? नीतीश कुमार अब इस्तीफ़े के बाद क्या ही करेंगे? वगेरह-वगेरह. साथ ही सोशल मीडिया पर मोदी सरकार को नीचा दिखाने के लिए इस तरह की बात फैलाई जा रही है कि नीतीश के इस्तीफ़े की स्क्रिप्ट मोदी ने लिखी थी.

source 

इस वायरल मैसेज में बताया जा रहा है कि पीएम मोदी ने नीतीश कुमार के इस्तीफ़े की स्क्रिप्ट लिखी थी तो जायज़ है उन्हें तो हर बात की खबर रही होगी. ऐसे में पीएम मोदी ने हड़बड़ी में नीतीश कुमार को समय से पहले ही ट्वीट कर बधाई दे दी थी. दरअसल इस वायरल मैसेज में बताया जा रहा है कि नीतीश ने इस्तीफा बुधवार शाम 6:35 पर दिया लेकिन पीएम मोदी ने उन्हें इस्तीफ़े की बधाई उन्हें  6:09 पर ही दे डाली. मतलब कि ये बात तो तय है कि मोदी और नीतीश के बीच सब फिक्स था.

source 

 

बताते चलें कि इसी से मिलताजुलता एक और मैसेज वायरल होता है जिसके मुताबिक, मोदी के नीतीश को बधाई देने के ट्वीट की टाइमिंग 26 जुलाई सुबह 3:39 है, लेकिन जब इस मैसेज की सच्चाई जानने की कोशिश की गयी तो जो सच्चाई सामने आई वो हैरान कर देने वाली थी.

दैनिक भास्कर में छपी ख़बर के मुताबिक

जान लीजिये इस वायरल हुए मैसेज की सच्चाई

लेकिन क्या ये पूरी सच्चाई है? तो हम आपको बता दें कि नहीं ऐसा नहीं है. दरअसल इस मैसेज की सच्चाई कुछ और है. आप ख़ुद अगर नरेन्द्र मोदी के ऑफिसियल ट्विटर अकाउंट पर जा कर नीतीश कुमार को बधाई देने वाले ट्वीट का समय देखेंगे तो आपको भी पता चल जायेगा कि नीतीश के इस्तीफे से पहले नहीं बल्कि 7 बजकर 9 मिनट पर किया है. बता दें नीतीश कुमार ने इस्तीफ़ा 6 बजकर 35 मिनट पर अपना इस्तीफ़ा दिया था. जिससे की ये बात तो साफ़ होती है कि नीतीश कुमार के इस्तीफे में पीएम मोदी का कोई हाथ नहीं है.

तो आखिर क्या वजह है जिसके चलते वायरल हुआ ये मैसेज?

इस मामले की जानकारी जब ट्विटर इंडिया की पब्लिक पॉलिसी हेड महिमा कॉल से ली गयी तो उन्होंने बताया कि, “कई बार ट्विटर अकाउंट की टाइम जोन सेटिंग गलत होने की वजह से अलग-अलग सिस्टम पर अलग-अलग ट्वीट टाइमिंग दिखती है. ट्वीट टाइमिंग चेंज करना राकेट साइंस नहीं है, बता दें कि कोई भी इंसान बड़ी हीआसानी से टाइम जोन की सेटिंग को चेंज करके ट्वीट करने की टाइमिंग अलग दिखा सकता है. ये सेटिंग ट्विटर में ऑप्शन सेटिंग के अंदर हर अकाउंट में होती है.

source

बता दें कि ट्विटर इंडिया की पब्लिक पॉलिसी हेड के अनुसार, अगर यूजर इंडिया में बैठा है और उसके ट्विटर पर यूएस टाइम जोन सेलेक्ट है, तो यूजर को सभी ट्वीट की टाइमिंग यूएस के हिसाब से ही दिखेगी. तो ये कहना गलत नहीं होगा कि इस वायरल मैसेज में भी ऐसा ही हुआ होगा. इस ट्वीट का सही टाइम उन्हें ही दिखेगा जिन्होंने इंडिया के कॉन्टेक्सट में जिन सिस्टम में दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई का टाइम जोन (GMT +5:30) ऑप्शन सेलेक्ट होगा.

Facebook Comments