केजरीवाल के ऊपर बनी फिल्म को रिलीज करने से रोकने के लिए हुई थी अपील, कोर्ट ने सुनाया अपना फैसला !

केजरीवाल वैसे तो हैं दिल्ली के मुख्यमंत्री लेकिन उनकी चर्चा देशभर में होती है. दरअसल उनके कारनामे ही कुछ ऐसे हैं कि राजनीति की चर्चा करने पर आप उनका नाम लिए बिना नही रह सकते. अब केजरीवाल खुद के ऊपर बनी एक फिल्म को लेकर चर्चा में हैं. गलत मत समझिये संदीप कुमार वाली नही है ये. अमेरिकी कंपनी वाइस द्वारा बनाई गयी एक फिल्म ‘एन इन्सिगनिफिकेंट मैन’ जो कि केजरीवाल के सामान्य आदमी से राजनेता बनने की कहानी पर आधारित है, 17 नवम्बर को रिलीज होने वाली है. इस फिल्म को लेकर एक याचिका दायर की गयी थी कि इस फिल्म में कुछ ऐसे तथ्य हैं जोकि आपत्तिजनक हैं, इसलिए इस फिल्म की रिलीज पर रोक लगाई जाय. अब सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में फैसला सुना दिया है.

Source

ABP न्यूज़ के मुताबिक इस फिल्म को लेकर याचिकाकर्ता ने कहा था कि “केजरीवाल को पब्लिसिटी मिल पाए इसके लिए फिल्म में केजरीवाल पर स्याही फेंकने का एक दृश्य दिखाया गया है जोकि कॉन्सटीयूशन क्लब का है. इस दृश्य में केजरीवाल पर स्याही फेंकने वाले शख्स नचिकेता वाघरेकर को दोषी के तौर पर दिखाया गया है लेकिन ये मामला अभी निचली अदालत में चल रहा है. इसलिए याचिकाकर्ता ने मांग की थी कि सुप्रीम कोर्ट सेंसर बोर्ड को निर्देश दे कि वो फ़िल्म की रिलीज पर रोक लगाए.” इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट के प्रधान जज दीपक मिश्र की अगुवाई वाली पीठ ने फैसला सुनाते हुए याचिका ख़ारिज कर दिया है.

Source

कोर्ट ने कहा कि “कोर्ट बोलने और अभिव्यक्ति की आजादी में दखल नहीं दे सकता है.” हालाँकि फिल्म की रिलीज पर रोक तो नही लगी है और ये फिल्म 17 नवम्बर को रिलीज होगी. इस फिल्म को लेकर इसके पहले भी मामला अटका था जब सेंसर बोर्ड ने पीएम मोदी, शिला दीक्षित और केजरीवाल से NOC लाने को कहा था.

फिल्म प्रोमो

Facebook Comments