RTI में हुआ बड़ा खुलासा, मोदी सरकार ने जो सर्जिकल स्ट्राइक की थी असल में वो सर्जिकल स्ट्राइक…

एक समय था जब पूरे देश में ख़ुशी का माहौल था  कि भारतीय सेना ने उरी हमले का बदला ले लिया. अजीत डोभाल की निगरानी में भारतीय सेना ने बेहद सटीक तरीके से सर्जिकल स्ट्राइक ऑपरेशन को अंजाम दिया था. इन सबके बाद लोग मोदी सरकार की तारीफ कर रहे थे और इस कदम की प्रशंसा कर रहे थे. लोगों का कहना है मोदी ने बहुत ही साहसिक फैसला लिया था और देश के मान-सम्मान को बचाया , नही तो पाकिस्तान हम पर आए दिन आतंकियों के घुसपैठ के जरिए और सीजफायर तोड़ते हुए हम पर हमला करता रहा है. ऐसा भी नही है कि इन सब का भारतीय सेना ने कभी जवाब नही दिया, जवाब मुंहतोड़ दिया है लेकिन अशांति का माहौल पाकिस्तान हमेशा से बनाता रहा है. सीमा पर हो रहे लगातार हमले पर मोदी ने सख्ती से निपटने के लिए अजीत डोभाल के नेतृत्व में सर्जिकल स्ट्राइक करने का फैसला लिया और अजीत डोभाल ने इसे बेहद ख़ुफ़िया तरीके से सफल भी किया.

सर्जिकल स्ट्राइक से जुड़े 3 सवाल…

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद विपक्ष ने सरकार पर सवाल उठाया था कि क्या वाकई सर्जिकल स्ट्राइक हुई है ? विपक्ष ने सरकार से इसके सबूत भी मांगे थे और सेना पर भी सवाल उठाये थे, वाकई शर्म की बात थी कि विपक्ष ने सेना पर भी सवाल उठाया था. अब एक ऐसी खबर  जिससे सर्जिकल स्ट्राइक का सच सामने आ गया है.  दरअसल पुणे में रहने वाले एक शख्स ने सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक से जुड़े 3 सवाल पूछे थे. प्रफुल्ल शारदा  ने यह जानकारी क़ानून के तहत मांगी थी.

source

ये हैं वो तीन सवाल…

1. भारतीय सेना ने सितंबर, 2016 से पहले कितनी बार सर्जिकल स्ट्राइक की थी और उनमें से कितनी सफल रही थीं?

2  इन सर्जिकल स्ट्राइक में हमारे कितने जवान शहीद हुए? 

3. सितंबर, 2016 के बाद ऐसी कितनी सर्जिकल स्ट्राइक की गई और उनमें से कितनी स्ट्राइक सफल रही थीं?

 

source

रक्षा मंत्रालय से आया ये जवाब…

पहले सवाल को लेकर रक्षा मंत्रालय ने कहा कि हमारे पास सितम्बर में हुई सर्जिकल स्ट्राइक से पहले किसी भी प्रकार के सर्जिकल स्ट्राइक का कोई रिकॉर्ड नहीं है.  दुसरे सवाल में जवाब आया कि 28 सितम्बर को हुई सर्जिकल स्ट्राइक में भारत के किसी भी जवान को हानि नहीं हुई है.  तीसरे सवाल के जवाब में पता चला कि भारत में यह पहली सर्जिकल स्ट्राइक थी.

 

source

अब सवाल ये है उन वादों का क्या जो दिग्विजय सिंह, राजीव शुक्ला, रणदीप सुरजेवाला के साथ एनसीपी प्रमुख शरद पवार जैसे नेताओं  ने किये थे ? उनके अनुसार उन्होंने पहले भी कई बार सर्जिकल स्ट्राइक की थी लेकिन इस रिपोर्ट से उनकी पोल खुल गयी है.

 

source

सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान मोदी ने रातभर कुछ ऐसा किया जिसे जानकर आप मोदी पर नाज करेंगे !

सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान दिखा मोदी का ये रूप

उरी हमले के बाद पाकिस्तान से बदले की मांग काफी तेजी से बढ़ रही थी, जिस पर मोदी ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की देखरेख में सर्जिकल स्ट्राइक की रणनीति बनाई और देर रात इस रणनीति को अंजाम देने का फैसला किया l जब सर्जिकल स्ट्राइक के लिए भारतीय सेना के जवान पाक के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकियों को ढेर कर रहे थे तो इधर मोदी बेचैन थे l पीएम मोदी की बैचेनी इस कदर थी कि जब तक ये ऑपरेशन सफल नही हुआ तब तक वो ठीक से सो नही पाए l इतना ही नही जब तक ये ऑपरेशन चला तब तक मोदी ने पानी तक नही पिया और इस ऑपरेशन की पल पल की खबर लेते रहे l

 

 

सेना के जवान जब तक आतंकियों को मौत के ठिकाने लगा रहे थे उस दौरान मोदी सुषमा स्वराज, राजनाथ और पर्रीकर, जेटली के अलावा एनएसए अजीत डोभाल और सेनाओं के उच्चाधिकारियों से इस ऑपरेशन की हर खबर ले रहे थे l पीएम मोदी इस ऑपरेशन के सफल होने के बाद ही अपनी जगह से उठे और उठने के बाद भी इसके आगे क्या होगा उसकी रणनीति पर लग गये l

 

Facebook Comments