कांग्रेस, पीएम मोदी पर आरोप लगाती है लेकिन उसी के नेता ने दिखा दिया सोनिया और राहुल को आइना..

कांग्रेस के नेता पीएम मोदी पर अक्सर हमला बोलते रहते हैं जिनका जवाब देना पीएम मोदी जरुरी नहीं समझते और कांग्रेस को लेकर वो कुछ नहीं बोलते, लेकिन अब कांग्रेस के खिलाफ उसके बड़े नेता ही बोलने लगे हैं. कांग्रेस की नाकामियों को अब पार्टी के नेता ही सबके सामने लाने लगे हैं. कांग्रेस धीरे-धीरे भारत में अपनी पकड़ खोती जा रही है और इसी की वजह से उसके बड़े नेता कांग्रेस के आला-कमान को नसीहत देने लगे हैं.

source

गुजरात के पूर्व सीएम और कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं में शुमार शंकर सिंह वाघेला ने पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए कांग्रेस के नेताओं पर हमला बोला है. उन्होंने कहा जिन्हें चुनाव लडऩा तक नहीं जानते हैं वह पार्टी में बॉस बने बैठे हैं. गांधीनगर में अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए वाघेला ने कहा कि वह अपने समर्थकों से सलाह लेकर पार्टी में रहने को लेकर फैसला करेंगे. वाघेला ने कहा, 2002 में मैंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से वादा किया था कि मैं पार्टी के लिए हमेशा वफादार रहूंगा, लेकिन अब वह वादा खत्म हो चुका है. उन्होंने कहा कि मैं इसकी जानकारी सोनिया गांधी को भी दे चुका हूँ.

source

उन्होंने कहा कि पार्टी ने आगामी विधानसभा चुनावों के लिए सभी मौजूदा विधायकों को दोबारा उतारने का फैसला, पार्टी में मौजूद वरिष्ठ लोगों से पूछे बिना कर दिया है. वाघेला ने कहा कि चुनाव जल्द ही दस्तक देने वाले हैं और अभी भी पार्टी में कई पद खाली पड़े हुए हैं. गांधीनगर में अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए उन्होंने दावा किया कि चुनावी राजनीति के वह मंझे हुए खिलाड़ी हैं लेकिन फिर भी कांग्रेस हार रही है इसका प्रमुख कारण है कांग्रेस चुनाव से पहले ढंग से होमवर्क नहीं करती. प्रत्याशियों के चयन को लेकर उन्होंने सख्ती बरतने की बात भी कही. उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि, कांग्रेस हाथ पैर बांधकर तैरने के लिए छोड़ देती है, ऐसे तैरा नहीं जा सकता, डूबा जाता है.

source

उन्होंने ज़ोर देते हुए कहा कि अब वह आंख बंद करके चुपचाप बैठे नहीं रह सकते. जान-बूझकर 2007 व 2012 का चुनाव हार गए. वाघेला ने आगे  कहा कि पार्टी को उनका विकल्प नहीं मिल सकता, वह सीएम बनने के लिए नहीं कांग्रेस को सत्ता में वापस लाने के लिए काम करने के इच्छुक हैं. 25 जून को आपातकाल की बरसी की याद दिलाते हुए उन्होंने कहा कि वह दिल्ली की तिहाड़ जेल में 15 दिन बंद रहे थे, लेकिन माफी मांगकर छूटने का तरीका नहीं अपनाया.

 

Facebook Comments