गुस्से में तमतमायी महिला ने जब सरकारी ऑफिसर होने की धौंस दिखा रहे अफसर को जमकर धमकाया तो देखिये कैसे हाथ जोड़कर…

शहरों के ट्रैफिक को लेकर कुछ भी कहना गलत होगा क्योंकि हर किसी को पता है कि ट्रैफिक में फंसने का मतलब है लंबा झेलना. हालांकि लोग इस बड़ी प्रॉब्लम को झेलने के आदि हो चुके हैं. ट्रैफिक जाम में जबसे ज्यादा अगर किसी को किसी चीज़ से नफरत होती है तो वो है गाडि़यों के हॉर्न की आवाज जिसकी वजह से न जानें कितने लोग कितनी बीमारियों के शिकार होते जा रहे हैं लेकिन क्या करें रोज़ मर्रा भरी ज़िन्दगी में इसी ट्रैफिक के बीच लोगों का रोड पर चलना उनके लिए मजबूरी बन गई है.

source

इस ट्रैफिक को ध्यान में रखते हुए अगर मई ये कहीं कि ये ट्रैफिक हर जनमानस को ऊंचा सुनने के लिए मजबूर कर रहा है तो शायद यह भी सोचना गलत नहीं होगा. क्योंकि हर शहर में बढ़ते ट्रैफिक का लोड और रोड पर दिन- रात गाडि़यों की चिल्ल पो के कारण नॉयज पॉल्यूशन दिनों दिन और ज्यादा बढ़ता ही जा रहा है. जिसकी वजह से बुजुर्ग हों, बच्चे हों, या जवान हर कोई बहरेपन का शिकार होता जा रहा है.

source

हर शहर के अलग अलग इलाकों में साइलेंट जोन को मेनटेन रखने की जिम्मेदारी ट्रैफिक पुलिस की होती है. जिसके लिए कई शहरों में ट्रैफिक पुलिस ने कुछ दिनों पहले एक दर्जन से भी ज्यादा इलाकों को नो हॉर्न जोन के रूप में घोषित किया था और इसके साथ ही सरकार ने कुछ संस्थाओं की मदद से शहर में नो हॉर्न प्लीज और साइलेंट जोन के बारे में जानकारी देने वाले होर्डिग्स व बैनर भी लगाये थे.

source

मौजूदा समय में हालात तो ये हो गए हैं कि सड़क पर चलने वाली गाडि़यों में लगे हॉर्न और गाडि़यों के इंजन की आवाज से अब हर कोई इरीटेट होने लगा है. ऊपर से जब तेज धूप हो और उधर आपके कानों में ये कानफाड़ू आवाज जा रही हो तो कई लोग इसे बर्दाश्त नहीं कर पाते तो नौबत मारपीट या लड़ाई झगड़े तक पहुंच जाती है.

source

जी हाँ ठीक ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले से आया है जिसमें एक महिला गाड़ी के हॉर्न की आवाज से तिलमिला उठी और ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने लगी. वहीँ इस महिला नें तेज़ हॉर्न मारने वाले लोगों को खुली धमकी तक दे डाली कि वो अब सभी लोगों की गाड़ी का हॉर्न बदलवाकर ही रहेगी.

आपको बता दें कि इस महिला के अन्दर इतना ज्यादा गुस्सा इसलिए भी था क्योंकि जिन लोगों की गाड़ी का हॉर्न उसे परेशान कर रहा था वो गाड़ी सरकारी गाड़ी थी और जब इस महिला ने गाड़ी सवार लोगों को हॉर्न न बजाने को कहा तो वे लोग नहीं मानें और कहने लगे कि मैडम ये गाड़ी सरकार की है. मानों सरकार में हैं तो ये लोग कुछ भी कर सकते हैं. नियम भी यही बनाते हैं और तोड़ते भी यही हैं. लेकिन जब आप इस महिला का वीडियो देखेंगे तो आप भी कहेंगे कि क्या झाड़ लगायी है इस महिला ने, कि माफ़ी मांगने को मजबूर हो गए ये सरकारी लोग.

यहाँ देखें महिला का वो धमाकेदार वीडियो…

 

तेज हार्न से परेशान होकर महिला ने किया हंगामा, अधिकारी को सिखा…

तेज हॉर्न से परेशान होकर महिला ने किया हंगामा, अधिकारी को सिखाया सबक Uttar Pradesh Lucknow, Uttar Pradesh #upnews #news

Posted by Punjab Kesari UP on 2017 m. liepa 30 d.

Facebook Comments