इतने मई से शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, इन नियमों के साथ मिली इजाजत

by supriya
0 comment 1710 views

कोरोना के हर दिन बढ़ रहे प्रकोप के चलते पूरे देश मे पीएम मोदी ने लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का फैसला लिया था. लॉकडाउन को 31 मई तक के लिए आगे बढ़ा दिया है. इसके बावजूद भी हालात नही सुधर रहे. लॉकडाउन बढ़ने के बाद भी मरीजों की संख्या का ग्राफ गिरने की बजाय हर दिन जबरदस्त बढ़ रहा है जिसने सभी को हैरान कर दिया है. आपको बता दें देश में धीरे-धीरे कुछ कुछ चीजों में छूट देने की शुरुवात कर दी गयी हैं. रेलवे के बाद अब हवाई जहाज को भी उड़ाने की छूट मिली हैं. आइये आपको बताते हैं नियम.

देशभर में घरेलू उड़ानों की सेवा 25 मई से शुरू हो जाएगी. नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी. लॉकडाउन के कारण राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर पाबंदी लगी हुई है. हाल ही में सरकार ने रेल सेवा की फिर से शुरुआत की और अब घरेलू उड़ानें भी 25 मई यानी सोमवार से शुरू होंगी. हरदीप पुरी ने कहा कि सोमवार 25 मई 2020 से घरेलू उड़ानें शुरू हो जाएंगी. सभी एयरपोर्ट और एयरलाइन कंपनियां 25 मई से उड़ानें शुरू करने के लिए तैयार रहें. यात्रियों के लिए SOP भी जारी किया जा रहा है.

बता दें कि इससे पहले नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने मंगलवार को एक ट्वीट कर कहा था कि हवाई सेवा शुरू करने की जिम्मेदारी केंद्र के साथ-साथ राज्यों की भी है. उन्हें भी इसके लिए तैयार होना होगा. गौरतलब है कि 25 मार्च से देश में जारी लॉकडाउन के समय से ही उड़ानों पर पाबंदी लगी है. नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने e-एजेंडा आजतक में शिरकत करते हुए कहा था कि लॉकडाउन के खुलने के बाद सरकार के फैसला लेते ही हम घरेलू उड़ान शुरू कर देंगे. इसके लिए हमारी तैयारी पूरी है और हम निजी एयरलाइंस को भी कर रहे हैं कि आप अपनी तैयारी पूरी रखें. हालांकि उन्होंने ये बयान लॉकडाउन 4.0 लागू होने के पहले दिया था.

कार्यक्रम में हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी सिविल एविएशन मार्केट है, ऐसे में घरेलू उड़ानें शुरू होते ही इस इंडस्ट्री के जल्द ही पटरी पर आने की उम्मीद है. उन्होंने कहा कि घरेलू उड़ान शुरू होते ही हमें अपने तरीके में बदलाव करना होगा यानी SOP में बदलाव हो सकता है. उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि बोर्डिंग पास घर से प्रिंट करके लाना होगा. शुरू में एक बैग लेकर चलना पड़ेगा, समय से पहले आना होगा और रिफ्रेशमेंट आदि पर पाबंदी लगानी पड़ सकती है.