अगर अमेरिकी दौरे के दौरान अजित डोभाल पीएम मोदी के साथ नहीं होते तो व्हाइट हाउस में स्पीच के दौरान होने वाला था कुछ ऐसा…

पीएम मोदी का अमेरिका दौरा इन दिनों सोशल मीडिया पर सुर्खियाँ बटोर रहा है|  इस दौरे के दौरान कई ऐसी बातें हुई हैं जिन्हें सोशल मीडिया पर ज़्यादा से ज़्यादा शेयर किया जा रहा है| पीएम मोदी व्हाइटहाउस पहुंचे तो जहाँ एक तरफ डोनाल्ड ट्रम्प अपनी पत्नी के साथ पीएम मोदी का भव्य स्वागत करते नज़र आये वहीँ दुनिया के इन दोनों  शक्तिशाली माने जाने वाले नेताओं ने कुछ ऐसे पल भी एक दूसरे के साथ शेयर किये जिनसे उनके रिश्तों की असलियत भी सामने आई|  इस दौरे पर सबकुछ सही ही चल रहा था कि तभी पीएम मोदी के साथ कुछ ऐसा अप्रिय हो गया जहाँ एक बार फिर संकटमोचन   बन कर अजित डोभाल उनकी मदद को पहुंचे|

दरअसल राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल पी एम मोदी के साथ उस वक़्त व्हाइटहाउस में ही थे जब अचानक ही एक स्पीच देने के दौरान पीएम मोदी के साथ कुछ ऐसा हो गया कि शायद अगर उस वक़्त वहां अजीत डोभाल ना होते तो पीएम मोदी को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता| दरअसल वाकया उस वक़्त का है जब मीडिया से बात करते वक़्त पीएम मोदी के स्पीच के कुछ पन्ने हवा के झोंकों के साथ  उड़ गये।

जिस वक़्त ये हादसा हुआ उस समय प्रधानमंत्री मोदी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ अपनी पहली मुलाकात के बाद उनकी बात को ध्यान से सुन रहे थे कि ठीक उसी दौरान पीएम मोदी के स्पीच के कुछ पन्ने  हवा में उड़ गए। जब पीएम मोदी के साथ ये घटना हुई ठीक उसी वक़्त डोभाल कुछ अन्य वरिष्ठ भारतीय अधिकारियों के साथ अगली पंक्ति में बैठे थे और फुर्ती दिखाते हुए उन्होंने तुरंत ही उन पन्नों को इकठ्ठा कर प्रधानमंत्री मोदी को वापस लौटा दिया। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी की राष्ट्रपति ट्रंप के साथ यह मुलाकात दोनों नेताओं की पहली आमने- सामने की बैठक थी|

देखिये वीडियो: 

 

इस दौरे पर जाने से पहले पीएम मोदी भारतीय संस्कृति की छाप देते हुए डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी के लिए कुछ खास तोहफे भी लेकर गए थे। बताते चलें कि पीएम मोदी ने 52 साल पुरानी ऐतिहासिक परंपरा को आगे बढ़ाते हुए अब्राहम लिंकन के मृत्यु के बाद साल 1965 में जारी पोस्टल स्टैम्प डोनाल्ड ट्रंप को गिफ्ट के रूप में दिया था। वहीं ट्रंप ने मोदी को उनके स्वागत में एक खास चीज के बारे में बताया। ट्रंप ने मोदी को अब्राहम लिंकन के फेमस गेटिसबर्ग स्पीच की कॉपी और वह डेस्क दिखाई जिस पर वह लिखा करते थे। पंजाब के होशियारपुर की बनी एक लकड़ी की पेटी भी दी गई। पीएम मोदी ने ट्रंप को कश्मीर और हिमाचल के प्रसिद्ध हैंडमेड शॉल गिफ्ट में दिए। वहीं मिलेनिया को कांगड़ा वैली के कारीगरों के बनाया सिल्वर ब्रेसलेट भी दिया। इसके अलावा चाय पत्ती और शहद भी गिफ्ट के तौर पर दिया।