डोनाल्ड ट्रम्प ने आतंकवादियों के खिलाफ चलाया हंटर जिसकी चपेट में आए ये 6 देश के शरीफ मुस्लमान

दुनिया में आतंकवाद अपने पैर धीरे धीरे फैला रहा हैं कभी किसी देश में हमला होता है तो कही स्कूल ओर कॉलेज के सामने बम्ब फट रहे हैं | पाकिस्तान देश में तो राजदूतावास के सामने  बम्ब फटने के साथ साथ  आर्मी बेस पर भी हमला किया जा चुका हैं | आतंकवाद के खिलाफ आज सारे देश एक साथ खड़े नज़र आ रहे हैं  आतंकवाद से लड़ने के लिए भारत हमेशा पहल करता है और पाकिस्तान कि ओर दोस्ती का हाथ भी बढ़ता है लेकिन पाकिस्तान देश अपनी हरकत से  बाज़ नहीं आ रहा हैं |

source

पाकिस्तान में आतंकवाद को बढ़ावा देने में चीन का भी अहम् योगदान रहता हैं | चीन के साथ साथ पूरी दुनिया को पता हैं कि मुंबई हमले का मास्टरमाइंड हाफिज़ सईद है भारत यूएन में  हाफ़िज़ सईद को आतंकी घोषित करना चाहता है | लेकिन चीन अपनी वीटो पॉवर का गलत इस्तेमाल कर हाफिज़ सईद को बचा लेता है |

source

पाकिस्तान अपनी नापाक हरकत से भारतीय सीमा पर हमला करता रहता है | लेकिन अब भारत देश के प्रधानमंत्री की अमेरिका दौरे के बाद से चीन और पाकिस्तान के दन्त खट्टे हो गए है | उन्हें लगता है अमेरिका के पास आने से भारत को अमेरिका से कुछ भी हासिल नहीं होने वाला हैं |

source

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जिस गर्मजोशी के साथ मिले थे | उसे देखकर लग रहा था कि अब दुनिया को कुछ खास तोहफा मिलने वाला हैं | जिसमे अमेरिका ने पहले पाकिस्तान के हिजबुल सलाहुद्दीन को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया है | इसके बाद अमेरिका अब 6 देशों के शरीफ मुसलमानों को भी सजा देने को तैयार हो चुका है |

source

अमेरिका अब अपनी वीजा पॉलिसी में बड़े बदलाव करने जा रहा है | अगर आप  इन 6 देशों के निवासी हो तो आपको अमेरिका आने के लिए अपने खास रिश्तेदार के बारे में बताना होगा जिसमें माता पिता, बच्चे, पति-पत्नी, बालिग बेटा या बेटी, दामाद ,बहु अथवा भाई-बहन के साथ अपने संबंधों के साक्ष्य देने होंगे |

source

अगर आप इनके अलवा  दादा-दादी, पोते-पोतियां , चाचा, चाची, भांजा-भांजी, भतीजा- भतीजी, देवर देवरानी, जेठ- जिठानी, साला और उसकी पत्नी, मंगेतर और विस्तारित परिवार के अन्य सदस्यों को निकट संबंधी नहीं माना जाएगा | इन 6 देशों में लीबिया, ईरान, सोमालिया, सूडान, सीरिया और यमन शामिल है |