डिबेट शो में पीएम के लिए अभद्र भाषा का प्रयोग कांग्रेसी प्रवक्ता को पड़ा भारी, एंकर ने कहा, ‘आपकी उम्र..’

राजनीति में आपस में लोगों के वैचारिक मतभेद होते हैं लेकिन इसके बाद भी वो बात करने की मर्यादाओं को नहीं लांघना चाहिए. बहस करते समय शब्दों के चयन का खास ख्याल रखना चाहिए, खासकर तब जब किसी संवैधानिक पद को लेकर आप बहस कर रहे हों. अगर आप राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, राज्यपाल या फिर प्रधानमंत्री के बारे में बात कर रहे हैं तो आपको ख्याल रखना चाहिए कि इन पदों पर आसीन शख्स किसी भी पार्टी का हो लेकिन उस पद पर उसकी गरिमा दूसरी होती है. इसलिए ऐसे पदों पर आसीन लोगों के बारे में बोलने के लिए शब्दों का सही चुनाव करना चाहिए. अगर चुनाव सही ना हो तो फजीहत का सामना करना पड़ता है.

कांग्रेस के खेमे में ऐसे कई नेता हैं जो आये दिन पार्टी की फजीहत करवाते रहते हैं (फोटो सोर्स:Public Nation)

कांग्रेसी प्रवक्ता ने कराई पार्टी की फजीहत

फजीहत का एक मामला अभी ताजा सामने आया है जो कांग्रेस के प्रवक्ता जयवीर शेरगिल को लेकर है. दरअसल आजतक के एक कार्यक्रम में जयवीर शेरगिल ने पीएम मोदी या फिर पूर्व पीएम मनमोहन सिंह को लेकर इस तरीके की जुबान चलाई कि शो को होस्ट कर रहीं अंजना ओम कश्यप से रहा नहीं गया और उन्होंने चलते शो में ही कांग्रेसी प्रवक्ता से उनकी उम्र पूछकर तमीज से पेश आने का पाठ पढ़ा दिया.

Youtbe से लिया गया स्क्रीन शॉट

दरअसल जयवीर के शब्दों में पीएम के लिए ‘तू-तड़ाक’ जैसे शब्दों का प्रयोग था, जोकि किसी के लिए भी असहनीय है, और इसी के लिए चलते शो में जयवीर को सबक सिखाया गया. हम आपको वो वीडियो दिखा रहे हैं जिसमें जयवीर शेरगिल ने प्रधानमंत्री के लिए अभद्र शब्दों का इस्तेमाल किया.

Video

आपने वीडियो में देखा होगा कि कांग्रेस के प्रवक्ता किस बदतमीजी से पीएम पद अपमान कर रहे हैं. इसीलिए उनके इस रवैये को देखकर अंजना ओम कश्यप ने जयवीर से उनकी उम्र पूछ डाली और फिर लताड़ लगानी शुरू कर दी. जाहिर सी बात है कि इन्हीं सब हरकतों की वजह से आज कांग्रेस जनता की नजर में गिर चुकी है.

आपके लिए एक सवाल:

किसी भी संवैधानिक पद के लिए इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल क्या जायज है ?

Loading...
Loading...