जिस पाक आर्मी चीफ बाजवा को सिद्धू ने लगाया था गले उसने ही दे दी ऐसी धमकी कि आपका भी खून खौल जायेगा !

18 अगस्त को पड़ोसी देश पाकिस्तान में नए प्रधानमंत्री इमरान खान शपथ ले रहे थे, उससे एक दिन पहले 17 अगस्त को ‘भारत रत्न’ अटल जी की अंतिम यात्रा निकाली गयी थी. देश-दुनिया से लोग अटल जी को अंतिम विदाई दे रहे थे. बस सिद्धू इकलौते ऐसे शख्स थे जो अटल जी की यात्रा छोड़ पाकिस्तान जाने में रूचि दिखा रहे थे और वो गये भी. 17 अगस्त की शाम सिद्धू पाकिस्तान पहुँच जाते हैं और 18 अगस्त को इमरान खान के शपथ लेने के दौरान वो पाकिस्तान आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा के गले लगते हैं. अब वही बाजवा भारत को धमकी देते हुए नजर आ रहे हैं.

बाजवा के गले लगते हुए सिद्धू (फोटो सोर्स: ANI)

दरअसल सिद्धू के इस पाकिस्तान प्रेम के बाद उनकी खूब आलोचना हुई थी और आज भी हो रही है. सिद्धू उस शख्स से गले लगे थे जिसके सिर पर भारतीय जवानों की हत्या का इल्जाम है. ऐसे में देश इस घटिया हरकत को कैसे बर्दाश्त कर सकता था लेकिन सिद्धू खुद को शांति दूत समझ बैठे और बाजवा के गले लग लिए. अब उसी बाजवा ने भारत को अब धमकी देते हुए कहा कि, ‘पाकिस्तानी सेना हर खून का बदला लेगी.’

पाकिस्तान के सेनाध्यक्ष जनरल कमर जावेद बाजवा (फोटो सोर्स: अमर उजाला)

बाजवा ने कहा कि,  ‘भारत से हर खून का बदला लेंगे’

बता दें कि जिस तरह से भारतीय सेना सीमापार के आतंकवादियों पर कार्रवाई कर रही है उसे देखते हुए पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. यही नहीं दुनियाभर में मोदी सरकार के चलते पाकिस्तान पर दबाव बना है कि वो अपनी जमीन आतंकवाद के इस्तेमाल के लिए ना दे. इसको लेकर अमेरिका ने शिंकजा भी कसना शुरू कर दिया है. इन सबसे पाकिस्तान पूरी तरह हिल गया है. इसी बौखलाहट में पाकिस्तान के आर्मी चीफ ने ‘भारत से खूनी लेने की धमकी दे डाली.’

ABP न्यूज़ चैनल के एंकर अखिलेश आनंद का ट्वीट

ऐसी धमकी का भारत पर कोई असर नहीं

वैसे ऐसी कितनी धमकियां पाकिस्तान की तरफ से आती रहती हैं लेकिन भारत पर इसका कोई असर नहीं पड़ता, उल्टे पाकिस्तान को ही मुंह की खानी पड़ती है. आपको बता दें कि बाजवा ने ये बात रावलपिंडी के जनरल मुख्यालय में कही.

शांति के कबूतर उड़ाने वाले सिद्धू की अब बोलती बंद है (फोटो सोर्स: अमर उजाला)

सिद्धू की बोलती बंद है अब

बाजवा के इस बयान के बाद निश्चित रूप से सिद्धू को जोर का झटका लगा है और देशभर में उनकी फजीहत हो रही है. सिद्धू भारत सरकार से अलग शांति दूत बनकर पाकिस्तान चले गये थे और बाजवा को गले लगाया था, उसके बाद सिद्धू खुद को पाकिस्तान के बेहद करीब समझने लगे थे. अब बाजवा के इस धमकी वाले बयान के बाद सिद्धू की बोलती बंद है.

Loading...
Loading...