‘इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक’ की लॉन्चिंग पर पीएम मोदी ने UPA शासनकाल पर कहा कुछ ऐसा कि पूरी कांग्रेस को मिर्ची लग जाएगी !

अगर ये कहा जाए कि पीएम मोदी की अगुवाई में देश को विकास की राह मिली है तो आप भी इससे इनकार नहीं कर पाएंगे. UPA I और II में जिस तरीके से भ्रष्टाचार फैला था और देश में अन्धकार ही अन्धकार था उसे देखते हुए मोदी सरकार ने काफी बेहतर कदम उठाये हैं. 2014 से पहले देश में मानों लूट मची हुई थी. जो जितना पैसा चाहा उड़ा ले गया. बैंकों से लोन भी खूब मान माफिक बांटे गये. उसी का नतीजा है कि जब मोदी सरकार में इन सबकी पोल खुलनी शुरू हुई तो लोग देश छोड़कर विदेश भागने लगे. उन्हें पता था कि अगर वो देश में रहे तो कानून का सामना करना पड़ेगा और जेल की हवा खानी पड़ेगी.

बैंकिंग सेवा को जन-जन तक पहुँचाने के लिए पीएम मोदी ने IPPB की शुरूआत की (फोटो सोर्स: ANI)

बैंकों के जरिये मची इस लूट पर मोदी सरकार ने पूरी तरह रोक लगा दी. बैंकिंग सेवा को और दुरुस्त बनाने के लिए 1 सितम्बर 2018 को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से पीएम मोदी ने इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक(IPPB) की शुरूआत की. इसके जरिये हर आम आदमी को अब घर बैठे बैंकिंग की सुविधा मिलेगी. इस कदम से दूर-दराज गांवों में रह रहे लोगों को बैंकिंग की सुविधा उनके द्वार तक मिलेगी.

मोदी सरकार ने 12 डिफाल्टरों के खिलाफ कार्रवाई की

देश के 650 डाकघरों से शुरु होने वाले इस बैंक के उद्घाटन के दौरान पीएम मोदी ने पिछली सरकार में हुए घोटालों और बैंकिंग प्रणाली का मजाक बनाने वालों पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि, “पिछली सरकार में फोन बैंकिंग खूब चलती थी. उस सरकार में मौजूद कोई नामदार, रसूखदार व्यक्ति एक फोन करके डिफाल्टरों को बैंक से लोन दिला देता था. 2014 से पहले जिन 12 बड़े डिफाल्टरों को लोन दिया गया, हमने उन सभी के खिलाफ कार्रवाई की.”

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक मूलतः डाकघरों से जुड़ी होंगी (फोटो सोर्स: ज़ी बिजनेस)

ये तो साफ़ है कि पिछली सरकार में जिस तरह से ‘मेरा भी भला, तेरा भी भला’ स्कीम के चलते लूट मची थी वो इस सरकार में बंद हो गयी है. पीएम मोदी ने तुलनात्मक तरीके से बताते हुए कहा कि, “1947 से लेकर 2008 तक जितना लोन बैंकों ने दिया था उससे दोगुना लोन पिछली सरकार ने अपने 6 साल के कार्यकाल में दे दिया था. उस सरकार में किसी बड़े धनी को लोन चाहिए होता था तो वो किसी रसूखदार से फोन करा देता था और लोन मिल जाता था.”

‘इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक’ में क्या सुविधाएँ मिलेंगी

इस सुविधा के जरिये आप चालू खाता, बचत खाता, रेमिटेंस, प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण, पैसे भेजने तथा व्यापारियों को पेमेंट करने की सुविधा जैसे काम बड़ी आसानी से कर सकेंगे. यह बैंक पूरी तरह डिजिटल होगा और ग्राहक को मोबाइल बैंकिंग, माइक्रो एटीएम, नेट बैंकिंग, IVR,  SMS और काउंटर पर लेन-देन जैसी सुविधाएं भी मिलेंगी.