श्रीनगर में हुई डीएसपी की हत्या से दुखी राहुल गांधी ने ट्वीट किया, लेकिन यहाँ भी उनका दांव पड़ गया उल्टा जब लोगों ने उन्हें ही…

श्रीनगर में मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना जिसमे गुस्साई भीड़ ने डीएसपी अयूब पंडित को मौत के घाट उतार दिया इस बात का गुस्सा हर इन्सान में हैं|  जिस अमानवीय तरीके से और जिस बेबुनियाद मुद्दे पर डीएसपी अयूब पंडित  के साथ जानवरों जैसा  बर्ताव हुआ उसके बाद इन अलगाववादियों के भेष में छुपे भेड़ियों का भी सच दुनिया के सामने आ ही गया है| नौहट्टा में मौजूद मस्जिद के पास कुछ गुस्साए लोगों की भीड़ ने डीएसपी अयूब पंडित को मार-मारकर अधमरा कर दिया था | ज़ख्म इतने गहरे थे कि इस घटना के कुछ वक़्त के अन्दर ही उनकी मौत हो गई थी।

source

डीएसपी मोहम्मद अयूब की इस दुर्भाग्यपूर्ण मौत पर सीएम महबूबा मुफ्ती ने आखिरकार चुप्पी तोड़ते हुए बयान दिया था| महबूबा मुफ़्ती ने मोहम्मद अयूब को श्रद्धांजलि दी और इसे एक शर्मनाक घटना बताया है। इस शर्मनाक मुद्दे पर महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की पुलिस सबसे सक्षम पुलिस है लेकिन अपने लोगों से निपटने में पूरे संयम का परिचय दे रही है। शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा, “अगर पुलिसवालों के संयम का यही परिणाम है तो फिर बहुत मुश्किल होने वाली है। यह कितने समय तक चलेगा? मैं लोगों से कहना चाहती हूं कि अगर यह चलता रहा तो स्थितियां वैसी ही हो जाएंगी जैसी थीं, जब लोग पुलिस की जीप सड़क पर देखकर भागा करते थे।”

source

ऐसे में नानी के घर से लौटे राहुल गाँधी ने भी इस गंभीर मुद्दे पर अपनी बात रखते हुए बड़ा बयान दिया है|  राहुल गांधी ने इस मुद्दे पर ट्विटर पर अपनी राय रखते हुए अपने ट्वीट में लिखा कि,  “डिप्टी एसपी मोहम्मद अयूब पंडित की हत्या एक नई गिरावट को दर्शाती है। इस भयानक घटना से उपजे दर्द शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है।” राहुल गाँधी से यहीं नहीं रुका गया उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा कि,  “जम्मू-कश्मीर को दशकों पहले की दशा में खड़ा देखना दिल को तकलीफ पहुंचाने वाला है। पीडीपी और बीजेपी सरकार की पूर्ण विफलता जम्मू कश्मीर को कई दशक पीछे धकेल रही है।”

राहुल गाँधी का ये ट्वीट करना ही था कि लोगों ने उन्हें उनके ट्वीट के जवाब में ऐसे-ऐसे रिप्लाई दिए जिसने गाँधी परिवार की असलियत आईने की तरह साफ़ कर दी|  एक यूजर कपिल राज सिंह ने राहुल गाँधी के ट्वीट का जवाब देते हुए कहा कि, “शर्म आती है आपकी सोच पर| आप ये बात क्यों भूल जाते हो कि ये सब आपके दादा का ही किया धरा है| अगर आज कश्मीर बर्बाद हो रहा है तो उसका कारण आप ही हैं| शर्म आनी चाहिए आपको|”

तो वहीँ एक दूसरे यूजर ने राहुल गाँधी को फटकार लगाते हुए याद दिलाया कि, “इस तरह के शोषण की शुरुआत आप की सरकार ने ही की थी|  जब आपकी सरकार का समय चल रहा था उस वक़्त ही कश्मीरी पंडितों की ज़रा सुध लेते तो आज शायद ये नहीं होता|”

याद दिला दें कि गुरुवार रात को नाराज भीड़ ने अधिकारी के कपड़े उतरवाए और पत्थर मार मार कर उन्हें मार डाला। राज्य ने डीजीपी वैद ने बताया कि, “डीएसपी को मस्जिद के एक्सेस कंट्रोल पर इसलिए तैनात किया गया था ताकि वह असामाजिक तत्वों को माहौल खराब न करने दें और लोग शांतिपूर्वक नमाज पढ़ सकें लेकिन वह जिनकी सुरक्षा के लिए तैनात थे, उनमें से कुछ ने उनकी जान ले ली। यह अत्यंत दुखद है।’’

Loading...
Loading...