संघ विचारक राकेश सिन्हा ने अंजना ओम कश्यप से भारत माता की जय बोलने को लेकर कह दिया कुछ ऐसा कि…

10 जुलाई को कश्मीर के अनंतनाग में अमरनाथ श्रद्धालुओं पर हुए आतंकी हमले के बाद पूरे देश में विरोध प्रदर्शन हुआ. इस विरोध प्रदर्शन में हरियाणा के हिसार में बजरंग दल के कुछ कार्यकर्ताओं ने आतंकवाद का पुतला जलाया और नारेबाजी भी की. देखते देखते ही प्रदर्शन हिंसक हो गया. इस विरोध प्रदर्शन में  बजरंग दल के कुछ कार्यकर्ताओं ने एक इमाम को ज़बरन मस्जिद से बाहर निकालकर भारत माता की जय बोलने का दवाब बनाया.  बजरंग दल के एक कार्यकर्ता ने इमाम को थप्पड़ जड़ दिया. इस बात को लेकर विपक्षी पार्टियों ने बीजेपी और बजरंग दल पर निशाना साधा है. इसके बाद इस विवाद को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर बहस छिड़ गई.

Source

राकेश सिन्हा ने अंजना ओम कश्यप से कह दिया कि क्या आपको भी भारत माता की जय बोलने से होती है दिक्कत ?

इस तरह के विरोध प्रदर्शन के बाद आजतक चैनल पर इस बात को लेकर बहस हो रही थी . बजरंग दल के कार्यकर्ताओं का विरोध करने का तरीका कितना सही है. चैनल की एंकर अंजना ओम  कश्यप ने जब आरएसएस विचारक राकेश सिन्हा  से सवाल किया कि किसी भी व्यक्ति से जबरन भारत माता की जय बुलवाना कहां तक ठीक है. इस सवाल पर राकेश सिन्हा भड़क गए और कहने लगे कि क्या आपको भारत माता की जय बोलने से दिक्कत है ?

Source

संघ विचारक ने अंजना ओम कश्यप से कहा कि आप टेरिरिस्ट की तरह बात  करती हैं

अंजना ओम कश्यप ने इसी बात को लेकर राकेश सिन्हा से और सवाल पूछ लिए तो राकेश सिन्हा अंजना ओम कश्यप से कहने लगे कि आप तो टेरिरिस्ट की तरह बात कर रहीं हैं. अंजना ओम कश्यप ने राकेश सिन्हा की इस बात को अनसुना कर दिया.इतना कहने के बाद राकेश सिन्हा फिर से कहने लगे की आपको भारत माता की जय बोलने से दिक्कत होती है. इस बहस में अन्य लोगों में मौलाना अंसार रजा , सपा नेता अबू आज़मी ,कांग्रेस की नेता प्रियंका चतुर्वेदी और बीजेपी से शाहनवाज हुसैन शामिल हुए.  बहस में जब अंसार रजा से भारत माता की जय बोलने को कहा गया तो उन्होंने साफ़ साफ़ कह दिया कि वो भारत माता की जय नहीं बोलेंगे.

 

Source

 

हिसार में हुई घटना के बाद बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है. शिकायत दर्ज होने के बाद, पुलिस ने वीडियो के आधार पर घटना में शामिल लोगों की पहचान करने के बाद रात को ही सभी लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की है. इस घटना के बाद सभी जो लोग इसमें शामिल थे वो अंडरग्राउंड हो गए है. इस वजह से पुलिस किसी भी कार्यकर्ता को गिरफ्तार नहीं कर पाई है.

Source

बजरंग दल के कार्यकर्ताओं की इस हरकत के बाद ट्वीटर पर भी लोगों ने कड़ी आलोचना व्यक्त की है. इसी के साथ कुछ लोगों ने उन कार्यकर्ताओं के समर्थन में भी ट्वीट किये है.  किसी ने इसको लेकर बजरंग दल के कार्यकर्ता को शेर कहा तो किसी ने अपशब्दों का इस्तमाल किया.एक यूजर ने इस कार्यकर्ता को लेकर ट्वीट किया  “अब हिजड़ों में दम नहीं कि कश्मीर जाकर आतंकवादियों से भिड़ने की , तो चलो किसी अकेले मुसलमान पे ही नामर्दी झाड़ दे. इसी के साथ एक यूजर ने लिखा कि इतनी ही दम है बजरंग दल वालों में तो कश्मीर जाकर आतंकवादियों को दिखाएं , लेकिन वहां जाने से फ… है”. इसी के साथ एक यूजर ने लिखा कि “वाह देश बदल रहा है बजरंग बली श्री राम के नाम पे गुंडे बढ़ गए हैं “.

 

Loading...
Loading...