वीडियो: रामनाथ कोविंद के नामांकन के दौरान आडवाणी के साथ हुआ कुछ ऐसा जो आपको हैरान कर देगा…

NDA की तरफ से राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को बनाया गया है जिसके बाद सोशल मीडिया पर इस बात की चर्चा तेज हो गयी कि आखिर बीजेपी के दिग्गज नेता लाल कृष्ण आडवाणी को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार क्यों नही बनाया गयाl शुरुआत से ही ये माना जा रहा था कि अगर मोदी प्रधानमंत्री बनते हैं तो लाल कृष्ण आडवाणी को राष्ट्रपति बनाकर उन्हें राजनीतिक विदाई दी जा सकती है, लेकिन मोदी पीएम बने और लाल कृष्ण आडवाणी भाजपा के संसदीय बोर्ड से हटकर मार्गदर्शक मंडल में शामिल हो गये और लोग तब हैरान रह गये जब रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया गयाl

23 जून को रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए नामांकन भी कर दिया और इस दौरान बीजेपी ने अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया कि उसके साथ कौन-कौन हैl हालांकि माना यही जा रहा है कि रामनाथ कोविंद का राष्ट्रपति बनना तय है, लेकिन इन सबके बीच लोग इस बात पर चर्चा किये हुए हैं कि आखिर मोदी के राजनीतिक गुरु रहे लाल कृष्ण आडवाणी को इस तरीके से बीजेपी में किनारे क्यों किया गयाl वैसे आज हम आपको एक ऐसा वीडियो दिखाने जा रहे हैं जो राष्ट्रपति चुनाव के नामांकन का है जिसमें मोदी के साथ बीजेपी और उसके सहयोगी दलों के तमाम बड़े नेता मौजूद हैं, आडवाणी भी हैं लेकिन इस वीडियो में कुछ ऐसा हुआ है जिसे देखकर आप समझ जाएंगे कि लाल कृष्ण आडवाणी बीजेपी के लिए सिर्फ एक मोहरा हैं, क्योंकि आडवाणी को समय-समय पर सामने लाकर उनके साथ फोटो खिचाई जाती है लेकिन कोई पद देने के नाम पर ख़ामोशी छा जाती हैl 

आपको बता दें कि लाल कृष्ण आडवाणी ने मोदी को उनके मुश्किल राजनीतिक सफ़र में काफी साथ दिया है और पीएम मोदी भी उन्हें अपना राजनीतिक गुरु मानते हैंl राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को बनाये जाने के बाद कहा जाने लगा कि मोदी 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव पर नजर बनाये हुए हैं और उसी को देखते हुए उन्होंने दलित वोट बैंक पर सेंध मारने की कोशिश की हैl वैसे जब रामनाथ कोविंद के साथ कई दिग्गज नेता जिसमें नरेंद्र मोदी भी शामिल रहेl नामांकन करने के दौरान दिखाई दे रहे इन सभी नेताओं ने मीडिया के सामने हाथ उठाकर हवा में लहराए तो आडवाणी इस मामले में पीछे हो रहे थे तो एक हाथ रामनाथ कोविंद ने पकड़ा और दूसरा खुद मोदी ने और उनका हाथ पकड़कर ऊपर किया और दिखाने की कोशिश आडवाणी जी बहुत खुश हैं और इस चुनाव में उनका आशीर्वाद हमारे साथ हैl

देखें वीडियो:

आपको बता दें कि इस दौरान बीजेपी के मार्गदर्शक बन चुके लाल कृष्ण आडवाणी ने भी हल्की मुस्कान के साथ ये दिखाने की कोशिश की बीजेपी में  राष्ट्रपति चुनाव को लेकर कोई दरार नही है और सब एक साथ हैंl वैसे आपको बता दें कि रामनाथ कोविंद के दलित होने के नाते विपक्ष सोच में पद गया था कि समर्थन करे या फिर विरोध लेकिनी 22 जून को उसने फैसला किया कि वो मीरा कुमार को अपना राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाएगीl वैसे दोनों तरफ से दलित उमीदवार होने के नाते ये मुकाबला बेहद दिलचस्प हो चुका है और देखना है ये कि NDA कैसे विपक्ष की चाल को नाकाम करता हैl